प्रो. के.पी. यादव बने मैट्स यूनिवर्सिटी के नये कुलपति

प्रो. के.पी.यादव मैट्स यूनिवर्सिटी रायपुर के नये कुलपति नियुक्त किये गये हैं। गुरुवार को उन्होंने पदभार ग्रहण किया। इसके पूर्व वे संगम विश्वविद्यालय भीलवाड़ा, राजस्थान के कुलपति थे।

रायपुर। प्रो. के.पी. यादव मैट्स यूनिवर्सिटी रायपुर के नये कुलपति नियुक्त किये गये हैं। गुरुवार को उन्होंने पदभार ग्रहण किया। इसके पूर्व वे संगम विश्वविद्यालय भीलवाड़ा, राजस्थान के कुलपति थे।  प्रो. यादव राष्ट्रीय मूल्यांकन एवं प्रत्यायन परिषद (नैक), अखिल भारतीय तनकीकी शिक्षा परिषद, एआईसीटीई (भारत सरकार), आईसीएआर, बार काउंसिल ऑफ इंडिया तथा लोक सेवा आयोग की विशेषज्ञ समिति के सदस्य के रूप में भी अपनी सेवाएँ देते रहे हैं।

उन्होंने कम्प्यूटर, इलेक्ट्रॉनिक्स, पर्यावरण के क्षेत्र में अब तक 17 किताबें लिखी हैं तथा राष्ट्रीय-अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर 140 से भी ज्यादा शोध पत्र प्रकाशित व प्रस्तुत किये हैं। उन्हें 11 पेटेंट व कॉपीराइट प्राप्त हुए हैं।

कुलपति प्रो. के.पी. यादव (बी.टेक., पीजीडीएम, एम.टेक, पीएच.डी. एवं पोस्ट डाक्टरेट डीएससी) के निर्देशन में 11 शोधार्थियों ने पीएचडी व अनेक विद्यार्थियों ने पीडीएफ व पोस्ट डाक्टरेट डीएससी की उपाधि प्राप्त की है। वे उत्तरप्रदेश तकनीकी विश्वविद्यालय से संबद्ध महाविद्यालयों में आठ वर्ष तक निदेशक भी रहे हैं। इसके अतिरिक्त नागार्जुन कॉलेज बेंगलुरू एवं प्रियदर्शनी कॉलेज नागपुर में चेयर प्रोफेसर के पद को भी उन्होंने सुशोभित किया है।

प्रो. यादव ने के.एल.सी.यू. यूनिवर्सिटी, साउथ कैरोलीना, यूएसए तथा यसवड यूनिवर्सिटी, जाम्बिया के सलाहकार के रूप में भी विद्यार्थियों को मार्गदर्शन प्रदान किया है। राष्ट्रीय-अंतर्राष्ट्रीय महत्व की विभिन्न पत्र-पत्रिकाओं में उनके आलेख प्रकाशित होते रहे हैं। राष्ट्रीय-अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर उन्हें अनेक सम्मान प्राप्त हुए हैं।

प्रो. के.पी. यादव के कुलपति बनने पर मैट्स यूनिवर्सिटी के कुलाधिपति गजराज पगारिया, महानिदेशक प्रियेश पगारिया, उपकुलपति डॉ. दीपिका ढांढ, कुलसचिव गोकुलानंदा पंडा सहित विश्वविद्यालय परिवार ने हर्ष व्यक्त कर उनके निर्देशन में निरंतर प्रगति के पथ पर अग्रसर होने की आशा व्यक्त कर अपनी शुभकामनाएँ दी हैं।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button