इन कारणों से हो सकती है प्रेगनेंसी में परेशानियां…

माँ बनना इस दुनिया का सबसे सुखद एहसास है. हर औरत के लिए माँ बनना सबसे ज्यादा अहमियत रखता है. बच्चे उपरवाले का दिया हुआ सबसे अनमोल तोहफा होता है. बच्चे के मुह से माँ सुनना किसी भी औरत के लिए एक अनोखा एहसास होता है जो एक माँ के मनन को तृप्त कर देता है. वहीं कुछ लोग ऐसे भी हैं जो किसी न किसी कारण मां-बाप बनने का सुख नहीं पा सकते। सिर्फ बदलता लाइफस्टाइल ही नहीं बल्कि इसके और भी कई कारण हो सकते हैं। जिसके बारे में महिलाओं को जानकारी होना बहुत जरूरी है ताकि मां बनने से पहले वह इन बातों का खास ख्याल रखें।

1. पीसीओ

महिलाओं को पीसीओ की परेशानी होना आम बात है लेकिन इसका इलाज करवाना बहुत जरूरी है। इस प्रॉब्लम में अंडाशय में मौजूद सिस्ट हार्मोनल असंतुलन का कारण बन सकते हैं। जिससे गर्भाधारण करने में परेशानी आती है। इस तरह की परेशानी से आप भी जूझ रही हैं तो पहले पीसीओ का इलाज करवाएं।

2. एन्डोमेट्रीओसिस

एन्डोमेट्रीओसिस महिलाओं से जुड़ी गुप्त बीमारी है। जिसमें एन्डोमेट्रीओसिस में एंडोमेट्रियल की दीवारें गर्भाशय की अंदर विकसित होने की बजाय बाहर की ओर विकसित होना शुरू हो जाती है। जिससे पहले तो मासिक धर्म के बारे में परेशानी आती है और बाद में गर्भाधारण की संभावना कम हो जाती है।

3. थायराइड

थायराइड की बीमारी गले से संबंधित है लेकिन इससे गर्भाधारण करने में परेशानी हो सकती है। इससे प्रजनन क्षमता पर बुरा असर पड़ता है।

4. पेल्विक इन्फ्लैमटोरी

यह एक प्रकार का रोग है जो यौन रोग है। जिससे महिलाओं को गर्भाशय, प्रजनना अंगों, फैलोपियन ट्यूब को नुकसान पहुंचता है। जिससे संबंध बनाने,यूरीन पास करने,पीरीयड्स में बहुत परेशानी होती है। लगातार प्राइवेट पार्ट में खुजली और दर्द हो रही है तो डॉक्टरी जांच जरूर करवाएं।

5. बर्थ कंट्रोल पिल्स का सेवन

कई बार महिलाएं जरूरत से ज्याद बर्थ कंट्रोल पिल्स का सेवन करती हैं। जो धीरे-धीरे यूट्रस पर बुरा असर डालना शुरू कर देती हैं। जिससे बांझपन का खतरा बढ़ सकता है और मां बनने में दिक्कतें आनी शुरू हो जाती हैं।

Back to top button