गुजरात स्थानांतरित किया जा सकता है ग्रेटर नोएडा की परियोजना

नोएडा: प्रस्तावित राष्ट्रीय पुलिस विश्वविद्यालय परियोजना को गुजरात शिफ्ट किया जा सकता है. ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी ने पहले 372 करोड़ रुपये में 100 एकड़ की जगह टेक जोन सेक्टर राट्रीय पुलिस विश्वविधालय के लिए आवंटित की थी.

जिसके लिए गृह मंत्रालय की ओर से 10 प्रतिशत का भुगतान भी किया जा चुका है. इस विश्वविद्यालय को मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल के 100 दिनों की उपलब्धि का हिस्सा भी बताया गया था.

इस विश्वविद्यालय के लिए गृह मंत्रालय की ओर से सैद्धांतिक मंजूरी भी दे दी गई थी. लेकिन पिछले महीने ही ग्रेटर नोएडा ऑथरोइटी को ये बताया गया कि प्लान में कुछ बदलाव किए गए हैं. अब इस जानकारी के बाद प्लॉट को गृह मंत्रालय को सरेंडर करने को कहा गया है. इससे पहले भी इसी प्लाट को एक बड़ी आईटी कंपनी ने लिया था लेकिन फिर सरेंडर कर दिया था.

इस राट्रीय पुलिस विश्वविद्यालय में अनुसंधान और विकास के साथ पुलिसिंग, आंतिरक सुरक्षा, साइबर अपराध, फॉरेंसिक विज्ञान में स्नातक और स्नातकोत्तर पाठ्यक्रम होंगे.

Tags
Back to top button