राष्ट्रीय

प्रॉपर्टी डीलरों को विवाद के दौरान उनके ही दोस्तों ने मारी गोली, दोनों की मौत

सोसाइटी में हुई इस जघन्य वारदात से स्थानीय निवासियों में रोष व्याप्त

नई दिल्ली: दो प्रॉपर्टी डीलरों को विवाद के दौरान उनके ही दोस्तों ने गोली मार दी। दोनों प्रॉपर्टी डीलर विराट और अरुण की मौत हो गई है। गोली कांड को अंजाम देने वाले दोनों आरोपितों को पुलिस ने पकड़ लिया है पुलिस उनसे पूछताछ कर रही है।

वहीं, दूसरी ओर इस घटना से शहर के लोग रोष में हैं। देर रात गोलीबारी की आवाज सुनकर सोसाइटी के पार्कों और कमर्शियल कंपलेक्स में टहल रहे लोगों में भगदड़ मच गई। लोगों ने पुलिस की चौकसी और कार्यशैली पर भी सवाल खड़े किए हैं।

अजनारा ली-गार्डन हाउसिंग सोसायटी में रखरखाव का काम देखने वाले मुकेश कुमार ने बताया रात करीब 10:00 बजे ताबड़तोड़ फायरिंग की आवाज आई। इसके बाद सोसाइटी के पार्क और घरों के बाहर टहल रहे लोग दहशतजदा हो गए। शुरुआत में लोगों को समझ नहीं आया।

काफी देर बाद हिम्मत जुटाकर कुछ लोग घटनास्थल की ओर पहुंचे। वहां देखा तो दो लोग खून से लथपथ हालत में पड़े हुए थे। तत्काल डायल-112 पर फोन किया गया। सोसायटी मैनेजमेंट की ओर से बिसरख कोतवाली पुलिस को भी सूचना दी गई। बमुश्किल 10 मिनट में डायल-112 और बिसरख कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंच गई। इस बीच सैकड़ों लोगों की भीड़ घटनास्थल पर जुट गई थी।

ग्रेटर नोएडा वेस्ट में सुरक्षा व्यवस्था बुरे हाल में है

ग्रेटर नोएडा वेस्ट में फ्लैट खरीदारों की संस्था ने नेफोवा के अध्यक्ष अभिषेक कुमार ने इस दोहरे जघन्य हत्याकांड पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि शहर की सुरक्षा व्यवस्था कमजोर है। जब तक पूरे शहर में सीसीटीवी कैमरे नहीं लगाए जाएंगे, तब तक इस तरह की वारदात होती रहेंगी। लुटेरे, बदमाश और आपराधिक प्रवृत्ति के लोगों को पकड़े जाने का भय नहीं है। जिसकी वजह से वारदात को अंजाम देकर बदमाश आसानी से निकल जाते हैं। पुलिस कमिश्नर को कई बार यहां गश्त बढ़ाने और सुरक्षा व्यवस्था पुख्ता करने के लिए पत्र लिखे गए हैं। उनकी ओर से आश्वासन भी मिलता है, लेकिन अब तक कोई ठोस कदम नहीं उठाया गया है।

लगातार हो रही हत्याएं लोगों में दहशत पैदा कर रही हैं

ग्रेटर नोएडा आरडब्ल्यूए फेडरेशन के अध्यक्ष एडवोकेट देवेंद्र टाइगर का कहना है कि शहर में लगातार हत्याएं दहशत की वजह बनी हुई हैं। पिछले सप्ताह नोएडा में बीटेक के छात्र अक्षय कालरा की बदमाशों ने हत्या कर दी। अब ग्रेटर नोएडा वेस्ट में दो प्रॉपर्टी डीलरों को मौत के घाट उतार दिया गया है। ग्रेटर नोएडा में लूट करने के लिए बदमाशों ने रविवार की रात कैब ड्राइवर की हत्या करके नेशनल हाईवे पर फेंक दिया। बिगड़ते हालात को सुधारने के लिए पुलिस को बेहतर योजना के साथ काम करना होगा।

ग्रेटर नोएडा वेस्ट में पुलिस और थाने बढ़ाने की जरूरत है

मीडिया कनेक्ट के सदस्य विवेक रमण तिवारी का कहना है कि ग्रेटर नोएडा वेस्ट में लगातार जनसंख्या बढ़ती जा रही है हम पुलिस प्रशासन प्राधिकरण और उत्तर प्रदेश सरकार से यहां थाने चौकियां और पुलिसकर्मियों की तैनाती बढ़ाने की मांग कर रहे हैं इस दिशा में जल्दी से जल्दी फैसले लेने की आवश्यकता है पूरे इलाके में पुलिस दूर-दूर तक नजर नहीं आती है जिसकी वजह से यहां लगातार बड़ी आपराधिक घटनाएं हो रही हैं। पूरे ग्रेटर नोएडा वेस्ट में केवल एक बिसरख कोतवाली है।

दोहरे हत्याकांड से निवासियों में रोष

सोसाइटी में हुई इस जघन्य वारदात से स्थानीय निवासियों में रोष व्याप्त है। लोगों का कहना है कि पूरे इलाके से पुलिस नदारद रहती है। पुलिस कमिश्नर से बार-बार ग्रेटर नोएडा वेस्ट में पुलिस गश्त बढ़ाने की मांग की गई है। बिसरख कोतवाली पुलिस सुरक्षा को लेकर संजीदा नहीं है।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button