पालिकाध्यक्ष का धरना-प्रदर्शन भूख हड़ताल में तब्दील

गरियाबन्द: अध्यक्ष गफ्फूर मेमन ने दो दिनों तक चले धरना-प्रदर्शन को लेकर जिला प्रशासन की उदासीनता को देखते हुए नगर पालिका उपाध्यक्ष और पांच पार्षदों के साथ सुबह 8 बजे से भूख हड़ताल शुरु कर दी.

अध्यक्ष गफ्फूर मेमन ने बताया कि दो दिन के धरना-प्रदर्शन के दौरान एक बार तहसीलदार ने उनसे मुलाकात की, लेकिन उसके बाद से ना तो कोई अधिकारी आया और ना ही उनकी मांगों को गंभीरता से लिया. उन्होंने दावा किया कि जिला अस्पताल से जुड़ी जब तक उनकी 17 सूत्रीय मांगे पूरी नहीं होंगी, तब तक उनका धरना प्रदर्शन जारी रहेगा.

इधर कलेक्टर धावड़े ने रविवार को जिला अस्पताल का औचक निरीक्षण किया. उन्होंने अस्पताल में विभिन्न वार्डों के साथ ब्लड बैंक, डिलीवरी रूम और जनरल वार्ड का अवलोकन करते हुए मरीजों से बातचीत की. कलेक्टर ने अस्पताल में चल रहे रिपेयरिंग कार्य का जायजा लेते हुए शीघ्रता से पूर्ण करने के निर्देश दिए, वहीं अस्पताल परिसर में साफ-सफाई करने के भी निर्देश दिए गए.

मौके पर मौजूद सीएमएचओ डॉ नवरत्न ने बताया कि गरियाबंद चिकित्सालय में वर्तमान में 2 एंबुलेंस की सुविधा उपलब्ध है, जिससे मरीजों को आपातकालीन परिस्थितियों में लाने ले जाने में सुविधा होती है. उन्होंने बताया कि शासन द्वारा 5 एंबुलेंस गरियाबंद जिले के लिए क्रय किया जा रहा है, नए बजट सत्र में 5 एंबुलेंस जिले को उपलब्ध हो जाएगा.

Tags
Back to top button