15 जनवरी को नवापारा के ब्रह्माकुमारी में ‘हल्दी कुमकुम की सोंधी महक’

दीपक वर्मा अभनपुर

अभनपुर(रायपुर): अच्छे संस्कारों के निर्माण में एक गुणवान चरित्रवान महिला का हाथ होता है। माँ ही बच्चे का प्रथम गुरु होती है। भारतीय संस्कृति के अनुसार मकर सक्रांति को नव वर्ष के रूप में मनाया जाता है।

अर्थात नवीन श्रेष्ठ संस्कार, पुराने खराब संस्कार समाप्त। पुराने को जलाया जाता है। यह इसी दिन का यादगार है। जो पुराने समय से चला आ रहा है।

इसी अवसर को जीवंत रखने के लिए ब्रह्माकुमारी संस्था के महिला प्रभाग द्वारा 15 जनवरी मंगलवार को हल्दी कुमकुम की सोंधी महक का आयोजन दिन में 3:00 से 5:00 बजे तक त्रिमूर्ति भवन, ओम शांति कॉलोनी में विशेष महिलाओं के लिए किया जा रहा है।

जिसका विषय है श्रेष्ठ संस्कार निर्माण में महिलाओं का योगदान। इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि वक्ता हरिहर शासकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय की प्राचार्य ललिता अग्रवाल, अध्यक्षा ब्रह्मा कुमारी पुष्पा बहन, विशिष्ट अतिथि निधि अग्रवाल व अध्यक्ष महावीर इंटरनेशनल की अंजू पारख़ रहेगी।

कार्यक्रम में सभी महिलाओं को सौभाग्यवती के रूप में हल्दी, कुमकुम ,सिंगार की सामग्री दी जाएगी।

advt
Back to top button