किसान हितैषी योजनाओं का लाभ जरूरतमंदों तक पहुंचाएं: रविन्द्र चौबे

-कृषि मंत्री चौबे ने मंत्रालय में सुनी आम लोगों की समस्याएं

रायपुर:

प्रदेश के संसदीय कार्य, विधि एवं विधायी कार्य, कृषि एवं जैव प्रौद्योगिकी, पशुधन विकास, मछलीपालन, जल संसाधन एवं आयाकट मंत्री रविन्द्र चौबे ने सोमवार को मंत्रालय महानदी भवन में अधिकारियों से विभागीय योजनाओं एवं कार्यक्रमों की जानकारी ली। उन्होंने प्रदेश के विभिन्न स्थानों से आए आम लोगों की समस्याएं भी सुनी।

कृषि मंत्री ने अधिकारियों से कहा कि कृषि और जल संसाधन विभाग की योजनाएं किसानों और खेतीहर मजदूरों के हित में चलायी जा रही है। योजनाओं का समुचित लाभ जरूरतमंद हितग्राहियों तक पहुंचाना विभागीय अधिकारियों का प्रमुख दायित्व है। छत्तीसगढ़ की 80 प्रतिशत आबादी खेती-किसानी और उससे जुड़े काम-धंधों पर आश्रित है।

राज्य सरकार की किसान हितैषी योजनाएं तभी कारगर साबित होंगी, जब इन योजनाओं का फायदा किसानों को मिलेगा। श्री चौबे ने कहा कि विभागीय योजनाओं में लक्ष्य निर्धारित किया गया है। निर्धारित लक्ष्य को पूरा करने सभी अधिकारियों-कर्मचारियों को आपसी ताल-मेल के साथ कार्य करने की जरूरत है। चौबे ने प्रदेश के दूर-दराज क्षेत्रों से आए नागरिकों की समस्याएं सुनी और संबंधित अधिकारियों को इन समस्याओं के निराकरण के लिए जरूरी निर्देश दिए।

कृषि मंत्री से विधायक लखेश्वर बघेल एवं राज्य शासन के पूर्व अपर मुख्य सचिव सरजिसय मिंज ने भी मुलाकात की। इस अवसर पर कृषि विभाग के अपर मुख्य सचिव एवं कृषि उत्पादन आयुक्त केडीपी राव तथा जल संसाधन विभाग के विशेष सचिव अविनाश चम्पावत सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

1
Back to top button