छत्तीसगढ़

लोक निर्माण मंत्री ने दिए निर्देश,सड़कों की मरम्मत में लाएं तेजी

होटलों की सतत निगरानी के निर्देश

रायपुर, 08 फरवरी 2021 : लोक निर्माण एवं गृह मंत्री और बिलासपुर जिले के प्रभारी ताम्रध्वज साहू ने आज बिलासपुर कलेक्ट्रेट में जिला अधिकारियों की बैठक लेकर विभागीय काम-काज की समीक्षा की। उन्होंने नगर निगम द्वारा सड़कों की खुदाई के बाद मरम्मत कार्य में तेजी लाने और सड़क के किनारे खड़ी खराब गाड़ियों को भी अभियान चलाकर हटाने के निर्देश दिए, ताकि यातायात बाधित न हो।

आरटीओ को निर्देश

मंत्री साहू ने होटलों में लगातार दबिश देने के निर्देश दिए। उन्होंने होटलों में हुक्का बार एवं अन्य गतिविधियों पर लगातार निगरानी रखने को कहा। इसके लिए स्वास्थ्य, आबकारी, पुलिस एवं खाद्य विभागों की टीम गठित कर इस कार्य को संपादित करने को कहा। उन्होंने आरटीओ को निर्देश दिए कि शिविर लगाकर लायसेंस बनाए जाए।

बैठक में मंत्री ने कहा कि गौठानों को बहुद्देशीय केन्द्र बनाये एवं स्व-सहायता समूहों द्वारा बनाये गये उत्पादों की बाजार तक पहुंच सुनिश्चित करें। उन्होंने बिल्हा विकासखण्ड के सेलर गौठान की सराहना की एवं इसी तर्ज पर अन्य गौठानों को भी विकसित करने को कहा। साहू ने नगरीय क्षेत्रों में भी अधिक से अधिक गौठान बनाने के निर्देश दिए। उन्होंने नरवा, गरूवा, घुरवा, बाड़ी की लगातार मॉनिटरिंग के भी निर्देश दिए।

गौठानों में 1868 क्विंटल वर्मी खाद का उत्पादन

बैठक में जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी ने बताया कि गोधन न्याय योजना के तहत जिले में 1 लाख 3 हजार 431 क्विंटल गोबर की खरीदी की जा चुकी है और गौ-पालकों को 2 करोड़ 6 लाख 86 हजार रूपये से अधिक राशि का भुगतान भी किया गया है। गौठानों में 1868 क्विंटल वर्मी खाद का उत्पादन किया गया है। जिसमें से 1 हजार 77 क्विंटल वर्मी खाद की बिक्री की जा चुकी है। गौठानों में 3 हजार 319 वर्मी टैंक स्वीकृत किये गये है, जिनमें से 3 हजार 102 वर्मी टैंक पूर्ण कर लिये गये है। मनरेगा के तहत धान खरीदी केन्द्रों में 330 चबूतरे बनाये गये है।

मंत्री साहू ने चबूतरों में शेड निर्माण, मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान, पर्यटन विकास, ऋण पुस्तिका, नामांतरण, बटवारा आदि के कामों में तेजी लाने, कानून व्यवस्था, पेयजल, बाड़ी विकास, लोक सेवा गारंटी, अंत्यावसायी निगम द्वारा संचालित योजना एवं सड़क विकास कार्यों की भी समीक्षा की।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button