पुलवामा हमला: कांग्रेस ने खुफिया नाकामी को लेकर मोदी सरकार पर उठाए सवाल

नई दिल्ली। कांग्रेस ने गुरुवार को कश्मीर में आत्मघाती हमले को लेकर मोदी सरकार व राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल पर निशाना साधा और खुफिया विफलता को लेकर सवाल किए। कश्मीर के पुलवामा में हुए आत्मघाती हमले में सीआरपीएफ के 4० जवान शहीद हो गए थे।

कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने मीडिया से कहा, क्या अजीत डोभाल के तहत हमारा खुफिया तंत्र इतना कमजोर हो गया है कि आतंकवादी 35० किलो विस्फोटक लेकर देश के सबसे ज्यादा सुरक्षित राजमार्ग पर घुसने में समक्ष हो गए? उन्होंने कहा, आतंकवादियों को सीआरपीएफ जवानों का सटीक रास्ता कैसे पता चला? क्या वहां खुफिया विफलता हुई है? अगर ऐसा है तो खुफिया एजेंसियों में इसके लिए जिम्मेदार लोगों के खिलाफ कार्रवाई क्यों नहीं की गई।

कांग्रेस नेतृत्व ने सरकार से जैश-ए-मोहम्मद आतंकवादी समूह द्वरा हमले के महज 48 घंटे पहले जारी वीडियो को नजरअंदाज करने को लेकर भी सवाल किया। कांग्रेस ने ‘सीआरपीएफ द्वारा अपने कर्मियों को वायु मार्ग से ले जाने के आग्रह को गृहमंत्रालय द्वारा नकारे जाने’ का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा,सीआरपीएफ जवान खराब मौसम की वजह से एक हफ्ते से क्षेत्र में फंसे थे। इलाके से उन्हें एयरलिफ्ट किए जाने से उनकी जान बच जाती।

सुरजेवाला ने आत्मघाती हमले के बाद भी मोदी पर जिम काबेर्ट नेशनल पार्क में फिल्म की शूटिंग करने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा, मोदी द्वारा हमारे जवानों के अपमान की इससे बेहतर मिसाल मिलना मुश्किल है। अपरान्ह करीब 3.1० बजे जब पुलवामा हमले की खबर फैल चुकी थी, तब प्रधानमंत्री काबेर्ट नेशनल पार्क में शाम 6.45 बजे तक फिल्म की शूटिंग कर रहे थे।

Back to top button