पुलवामा : आतंकवादियों के साथ मुठभेड़ में मेजर समेत चार जवान शहीद

साथ ही इंटरनेट सेवा भी बंद कर दी गई

श्रीनगरः जम्मू कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले में सेना पर हुए इस बड़े हमले से पूरे देश का गुस्सा अभी ठंडा नहीं हुआ है कि अब पुलवामा में एनकाउंटर के दौरान चार सुरक्षा बल शहीद हो गए। देश के लोग शहीद जवानों की शहादत का बदला मांग रहा है।

खुफिया सूचना के आधार पर पुलवामा के पिंगलन गांव में राष्ट्रीय राइफल्स (आरआर), जम्मू कश्मीर पुलिस के विशेष अभियान समूह (एसओजी) और केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) ने संयुक्त अभियान शुरू किया था। जिसके बाद सुरक्षाबलों पर आतंकवादियों ने अंधाधुंध गोलियां चलाना शुरू कर दिया।

इस घटना में आतंकवादियों सहित मेजर समेत सुरक्षाबलों के तीन जवान घायल हो गए, जिन्हें तत्काल अस्पताल ले जाया गया लेकिन उन्हें बचाया नहीं जा सका। मुठभेड़ स्थल पर अतिरिक्त सुरक्षाबलों को भेजा गया है। आतंकवादियों के गांव से बाहर निकलने के सभी रास्ते बंद कर दिए गए हैं।

अंतिम सूचना मिलने तक दोनों ओर से लगातार गोलीबारी जारी है। सूत्रों के अनुसार क्षेत्र में जैश-ए-मोहम्मद के दो से तीन आतंकवादी छुपे हुए हैं। किसी भी प्रदर्शन को टालने के लिए आसपास के गांवों में अतिरिक्त सुरक्षाबलों और पुलिस के जवानों को तैनात किया गया है। साथ ही इंटरनेट सेवा भी बंद कर दी गई है।

Back to top button