पुलवामा टेरर अटैक: आतंकी हमले को लेकर फुटा क्रिकेटरों का गुस्सा

पाकिस्तान के साथ बातचीत टेबल की बजाए युद्ध के मैदान में होनी चाहिए।

पुलवामा में गुरुवार को हुए आतंकी हमले में सीआरपीएफ के 44 जवान शहीद हुए। क्रिकेटरों ने इस कायराना हमले की कड़ी निंदा की है|

सरकार ने इसका कड़ा जवाब देने की मांग की है। पूर्व इंटरनेशनल क्रिकेटर गौतम गंभीर ने तो कहा कि पाकिस्तान के साथ बातचीत टेबल की बजाए युद्ध के मैदान में होनी चाहिए।

जैश ए मुहम्मद के इस आत्मघाती हमले के बाद पूरे देश में गुस्सा है।

भारतीय क्रिकेट कप्तान विराट कोहली, गौतम गंभीर, वीरेंद्र सहवाग से लेकर युवा क्रिकेटर रिषभ पंत ने पुलवामा हमले को लेकर गुस्सा जाहिर किया है।

इन्होंने सोशल मीडिया के जरिए अपनी प्रतिक्रिया जाहिर की।

विराट कोहली ने कहा, ‘मैं इस कायराना हमले की निंदा करते हुए शहीद सैनिकों को श्रद्धासुमन अर्पित करता हूं। मैं घायल जवानों के शीघ्र स्वस्थ होने का कामना करता हूं।’

गौतम गंभीर ने लिखा, ‘कहते हैं अलगाववादियों से बातचीत करें, पाकिस्तान से बातचीत करें। लेकिन इस बार बातचीत टेबल पर बैठकर नहीं हो सकती।

अब बातचीत युद्ध के मैदान में होना चाहिए। बस अब बहुत हो गया।’

Back to top button