खेल

ISL के दो पुराने प्रतिद्वंद्वी पुणे और मुंबई होंगे आमने-सामने

ISL के दो पुराने प्रतिद्वंद्वी पुणे और मुंबई होंगे आमने-सामने

पुणेः हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के दो पुराने प्रतिद्वंद्वी-एफसी पुणे सिटी और मुंबई सिटी एफसी लीग के चौथे सीजन में बुधवार को बालेवाड़ी स्पोट्स कॉम्पलेक्स में आमने-सामने होंगे।

दोनों टीमों को अपने पहले मैच में हार मिली थी। मुंबई को पहले मैच में बेंगलुरू ने 2-0 से मात दी थी जबकि दिल्ली डायनामोज ने पुणे को उसके घर में 3-2 से हराया था। हालांकि पुणे ने वापसी करते हुए अपने दूसरे मैच में दो बार की विजेता एटीके को उसके घर में 4-1 से मात दी थी।

पुणे के कोच रैंको पोपोविक ने कहा कि वह इस बात से निराश हैं कि उनकी टीम अपने घर में खेला गया पहला मैच जीत नहीं सकी, लेकिन मौजूदा विजेता एटीके के खिलाफ मिली जीत से काफी खुश हैं।

सर्बिया के पोपोविक ने कहा कि हमारे लिए यह बेहद अहम है कि हमने अपने पहले तीन अंक हासिल कर लिए हैं और घर में खेलते हुए हम एक बार फिर इस तरह की कोशिश करेंगे। लेकिन यह इसलिए और जरूरी है क्योंकि क्लब का घर से बाहर रिकार्ड अच्छा नहीं है।

50 साल के पोपोविक ने कहा कि प्री सीजन में पहले मैच को छोड़कर हमने हर मैच में गोल किए थे। यह सिर्फ ध्यान से खेलने की बात है। हम इसी तरह का प्रदर्शन करने की कोशिश करेंगे। हम ज्यादा गोल करने की कोशिश करेंगे, लेकिन फुटबाल में कुछ कहा नहीं जा सकता।

मुंबई सिटी के कोच एलेक्जेंडर गुइमारेस को पुणे सिटी के खिलाफ सावधान रहने की जरूरत है। खासकर इमिलियानो अल्फारो और मार्सेलिन्हो से मुंबई को सतर्क रहना होगा। इन दोनों ने पिछले मैच में एटीके के खिलाफ जो खेल खेला था उसे देखने के बाद बाकी टीमों को इनसे बचना होगा। दोनों ने उस मैच में दो-दो गोल किए थे।

सीजन चार के लिए रिटेन किए गए एकमात्र कोच कोस्टा रिका निवासी गुइमारेस पुणे की आक्रमण पंक्ति से अच्छी तरह से वाकिफ हैं और उन्होंने अपने खिलाडिय़ों को इसके लिए सतर्क भी कर लिया है।

कोच ने कहा कि उन्होंने जो गोल किए थे वो काफी आक्रामक तरीके से किए थे। जब एक टीम यह कर सकती है तो आपको इस बात को आश्वस्त करना होगा कि आप गलती नहीं करें क्योंकि ऐसा होता है तो इसकी सजा मिलेगी। गुइमारेस ने साथ ही कहा कि टीम इस मैच में अलग आत्मविश्वास के साथ उतरेगी।

घर में जीतना हमेशा से अच्छा होता है और यह जाहिर सी बात है कि इससे टीम को अलग आत्मविश्वास मिलेगा। गुइमारेस अपनी टीम को सही संयोजन देने के लिए जाने जाते हैं, लेकिन उन्होंने इस बात को माना कि बाकी के कोचों की तरह उनके सामने भी सही समीकरण ढूंढऩे की चुनौती रहती है।

मुंबई को हाल ही में अपने घर में खेलने का मौका नहीं मिलेगा क्योंकि उसे अगला मैच केरल ब्लास्टर्स के खिलाफ उसके घर कोच्चि में खेलना है। वहीं पुणे को लगतार दो मैच घर में खेलने हैं। इन दो मैचों में हासिल किए गए अंक उसे शीर्ष स्थान पर उसकी दावेदारी को मजबूत करेंगे। वह अभी दूसरे स्थान पर है।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.