राष्ट्रीय

पुणे पुलिस ने एक 36 साल के शख्स को किया गिरफ्तार, जाने क्या है मामला

70 ऑटोरिक्शा ड्राइवरों के स्मार्टफोन चुराने का आरोप

मुंबई: ऑटोरिक्शा ड्राइवर के साथ भागकर शादी करने के बाद बदले की आस में एक शख्स ने 70 ऑटोरिक्शा ड्राइवरों का स्मार्टफोन चुराया। इस मामले में पुणे पुलिस ने एक 36 साल के शख्स को गिरफ्तार किया है।

आरोपी की पहचान आसिफ उर्फ भूराभाई आरिफ शेख के रूप में हुई है जो अहमदाबाद में एक रेस्टोरेंट का मालिक था। पुलिस ने सोमवार की शाम को उसे गिरफ्तार किया। वह कैंप के न्यू मोदीखाना में रह रहा था। मंगलवार को उसे मैजिस्ट्रेट के सामने पेश किया गया जिसके बाद उसे 27 अगस्त पर पुलिस कस्टडी में भेज दिया गया है।

पुलिस के अनुसार, आरोपी सिर्फ ऑटोरिक्शा चालकों को ही निशाना बनाता था क्योंकि उसकी गर्लफ्रेंड उसके सारे पैसे लेकर कथित रूप से एक ऑटोरिक्शा ड्राइवर के साथ भाग गई और शादी भी कर ली।

पुलिस की रिपोर्ट के अनुसार, शेख अहमदाबाद में रेस्टोरेंट बेचकर अपनी 27 साल की गर्लफ्रेंड के साथ पिछले साल जून में पुणे आया था। शेख अपनी गर्लफ्रेंड से शादी करना चाहता था जो कि उसके पैरंट्स की मर्जी के खिलाफ था। इसलिए शेख नए शहर में नया बिजनस शुरू करने से उद्देश्य से शिफ्ट हुआ।

हालांकि पुणे आने के दो दिन बाद ही उसकी सारी संपत्ति के साथ भाग गई। शेख ने उसका पता लगाया लेकिन जब वह उसे दोबारा मिली तो बहुत देर हो चुकी थी। उसकी गर्लफ्रेंड ने ऑटोरिक्शा ड्राइवर से शादी कर ली थी। टूटे हुए दिल के साथ शेख वापस पुणे लौटकर आया और अपने दूर के रिश्तेदार के साथ कोंधवा में काम शुरू किया।

इन सबके बीच उसके दिल से ऑटोरिक्शा ड्राइवरों के लिए कड़वाहट बैठ गई। उसने कतरज, कोंधवा और कैंप में ऑटो से ट्रैवल करना शुरू किया और इस दौरान वह ड्राइवरों का ध्यान भटकाकर उनका स्मार्टफोन चुरा लेता था।

शेख ने पुलिस को बताया कि फोन चुराकर उसे एक सुकून मिलता था। पूछताछ के दौरान उसने 70 फोन चुराने की बात कबूली। सीनियर इंस्पेक्टर चंद्रकांत भोसले ने बताया, चार ऑटोरिक्शा ड्राइवरों के फोन चोरी होने केस आने पर हमारी डिटेक्शन ब्रांच ने बारीकी नजर रखी। मुखबिरों ने हमें जरूरी इनपुट्स दिए जिसके बाद हमने शेख को उसके घर से चोरी के सामान के साथ गिरफ्तार किया।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button