पुनीत गुप्ता और मंतूराम पवार को हाइकोर्ट से झटका, सिंगल बेंच ने सुनवाई से किया इनकार

रायपुर।

अंतागढ़ टेप कांड में आरोपी डॉ. पुनीत गुप्ता और मंतूराम पवार को हाइकोर्ट ने बड़ा झटका दिया है। कोर्ट की सिंगल बेंच ने सुनवाई से इंकार कर दिया है। मिल रही जानकारी के अनुसार अब अगली सुनवाई 21 फरवरी को होगी।

इससे पहले गिरफ्तारी से बचने के लिए डॉ. पुनीत गुप्ता और मंतूराम पवार ने रायपुर जिला सत्र न्यायालय में अग्रिम जमानत याचिका दायर की थी, लेकिन मामले की गंभीरता को देखते हुए न्यायाधीश ने जमानत याचिका खारिज कर दी। जिला सत्र न्यायालय ये राहत नहीं मिलते पर पुनीत गुप्ता और मंतूराम पवार ने हाइकोर्ट का दरवाजा खटखटाया है।

दरअसल, छत्तीसगढ़ की राजनीति में भूचाल लाने वाले अंतागढ़ टेप कांड सामने आने के तीन साल बाद एक बड़ी कार्रवाई हुई है। इस केस में अजीत जोगी, उनके बेटे अमित जोगी, पूर्व सीएम डॉ. रमन सिंह के दामाद पुनीत गुप्ता, राजेश मूणत और मंतूराम पवार पर धोखाधड़ी और पैसों के प्रलोभन और भ्रष्टाचार अधिनियम की धाराओं के तहत मामला पंडरी थाने में दर्ज किया गया है। कांग्रेस की वरिष्ठ महिला नेता किरणमयी नायक की शिकायत पर एफआईआर दर्ज की गई है।

Back to top button