राष्ट्रमंडल और एशियाई खेलों में राज्य के खिलाड़ियों को पंजाब सरकार करेगी सम्मानित

ओलम्पिक खेलों में पदक विजेता खिलाड़ियों की राशि में भी इजाफा

नई दिल्ली :

इस साल राष्ट्रमंडल खेलों और एशियाई खेलों में पदक जीतने वाले खिलाड़ियों को पंजाब सरकार चंडीगढ़ में स्टेट अवार्ड और नकद पुरस्कार से सम्मानित करेगी। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह पदक जीतने वाले 23 पुरुष खिलाड़ियों और महिला खिलाड़ियों को 155 करोड़ रुपए की ईनामी राशि से सम्मानित करेंगे।

पंजाब के खेल मंत्री राणा सोढी ने गुरुवार को राजधानी दिल्ली के पंजाब भवन में इसकी घोषणा कर कहा कि ओलम्पिक खेलों में पदक विजेता खिलाड़ियों की राशि में भी इजाफा किया गया है।

इस कदम के पीछे पंजाब का लक्ष्य आगामी 2020 टोक्यो ओलम्पिक जैसे खेलों में चैम्पियनों का निर्माण करना है। राजधानी दिल्ली में होने वाले आयोजन में एशियाई और राष्ट्रमंडल खेलों में पदक जीतने वाले खिलाड़ियों के कोचों को भी पुरस्कृत किया जाएगा।

पंजाब खेल मंत्री सोढी ने कहा कि ओलम्पिक और पैरालम्पिक खेलों में स्वर्ण पदक विजेताओं की राशि बढाकर 2.25 करोड़ रुपये, रजत पदक विजेताओं की राशि 1.5 करोड़ रुपये और कांस्य पदक विजेताओं की राशि बढ़ाकर एक करोड़ रुपये कर दी है।

राष्ट्रमंडल और एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीतने वाले विजेता खिलाड़ियों को 75 लाख रुपये, रजत पदक विजेताओं को 50 लाख रुपये और कांस्य पदक विजेताओं को 40 लाख रुपये दिए जाएंगे।

विश्व चैम्पियनशिप में सोना जीतने वाले खिलाड़ियों की पुरस्कार राशि पंजाब सरकार ने बढाकर 80 लाख रुपये, रजत पदक विजेताओं की 55 लाख रुपये और कांस्य पदक विजेताओं की 45 लाख रुपये कर दी है।

इसके अलावा, पंजाब सरकार ने एसएएफ खेल एवं एफ्रो एशियाई खेलों के पदक विजेताओं की राशि भी बढ़ा दी है। स्वर्ण पदक विजेताओं को पांच लाख रुपये, रजत पदक विजेताओं को तीन लाख रुपये और कांस्य पदक विजेताओं को दो लाख रुपये दिए जाएंगे।

इसके साथ ही वर्ल्ड यूनिवर्सिटी और चैम्पियनशिप में स्वर्ण पदक विजेताओं को सात लाख रुपये, रजत पदक विजेताओं को पांच लाख रुपये और कांस्य पदक विजेताओं को तीन लाख रुपये दिए जाएंगे।

Back to top button