पंजाब नेशनल बैंक ने 0.05 प्रतिशत बढ़ाया एमसीएलआर, महंगा होगा कर्ज

इसी दर पर दिए जाते हैं ज्यादातर खुदरा कर्ज

नई दिल्ली :

पंजाब नेशनल बैंक ने 0एमसीएलआर को .05 प्रतिशत बढ़ाया है जिससे की अब पंजाब नॅशनल बैंक से कर्ज महंगा हो गया है। यह नियम आज से लागू हो गया है ।

शेयर बाजार को भेजी सूचना के अनुसार बैंक ने अपनी एमसीएलआर दर को एक नवंबर 2018 से संशोधित कर दिया है। अब एमसीएलआर दर को 0.05 प्रतिशत बढ़ाकर 8.50 प्रतिशत कर दिया गया है। बता दें कि इसी दर पर ज्यादातर खुदरा कर्ज दिए जाते हैं।

लोन लेना भी हुआ महंगा

इस संशोधन के बाद अब तीन साल का कर्ज 8.70 प्रतिशत, छह माह के कर्ज पर 8.45 प्रतिशत और तीन माह के लिए कर्ज देने पर 8.25 प्रतिशत ब्याज लिया जाएगा। एक माह और एक दिन की अवधि के लिए दिए कर्ज पर 8.15 प्रतिशत की दर से ब्याज होगा। बैंकिग प्रणाली में एमसीएलआर प्रणाली को अप्रैल 2016 से लागू किया गया था। इसने बैंकों में आधार दर प्रणाली का स्थान लिया।

आधार दर्ज से नीचे किसी भी दर पर बैंक कर्ज नहीं दे सकते थे। एमसीएलआर दर की गणना बैंकों द्वारा लिए गए उधार की सीमांत लागत और बैंक की नेट वर्थ पर मिलने वाले प्रतिफल के आधार पर की जाती है।

जानें क्या है एमसीएलआर
बता दें कि एमसीएलआर वह दर होती है जिस पर किसी बैंक से मिलने वाले ब्याज की दर तय की जाती है। िससे कम दर पर देश का कोई भी बैंक लोन नहीं दे सकता है।

Back to top button