अंतर्राष्ट्रीय

खाड़ी विवाद के बीच कतर ने बदला आतंक निरोधी कानून

दोहा: कतर ने अपने आतंकनिरोधी कानून में बदलाव करने की घोषणा की है। दोहा और पड़ोसी देशों के बीच जारी संकट में यह विवादित मुद्दों में से एक है। पड़ोसी मुल्क देश पर कट्टरपंथियों का साथ देने का आरोप लगाते हैं।

शेख तमीम बिन हमद अल थानी की आेर से जारी एक आदेश में लोगों और आतंकी संगठनों की दो राष्ट्रीय सूची बनाई गई हैं, साथ ही मापदंड तय किए गए हैं कि इनमें किन आधार पर लोगों, संगठनों को शामिल किया जाएगा। इसमें आतंकियों, आतंकी अपराधों, आतंकी संगठनों और आतंक के वित्तपोषण की व्याख्या की गई है। यह आदेश आतंक के वित्तपोषण से निबटने के लिए किए गए अमरीका-कतर समझौते के बाद जारी किया गया है। इस समझौते को खाड़ी देश के पड़ोसियों ने नकार दिया था। सऊदी अरब, संयुक्त अरब अमीरात, बहरीन और मिस्र गत 5 जून से कतर का बहिष्कार कर रहे हैं।

Back to top button