आधार के डेटा सुरक्षा पर फिर उठे सवाल, एक आधार पर मिले 9 मोबाइल नंबर लिंक्ड

आधार के डेटा सुरक्षा पर फिर उठे सवाल, एक आधार पर मिले 9 मोबाइल नंबर लिंक्ड

नई दिल्ली: आधार डेटा को लेकर एक ऐसा मामला सामने आया है, जिसने एक बार फिर से आधार डेटा सिक्योरिटी को कटघरे में ला खड़ा कर दिया है. आधार से मोबाइल नंबर लिंक करने का एक अजीब मामला ऐसे समय में आया है, जब इस पर पूरी तरह से बहस चल रही है. दिल्ली की रहने वाली प्रिया ने बताया कि जब वो अपना मोबाइल नंबर आधार से लिंक करवाने गईं, तो पता चला कि उनके आधार से पहले से ही नौ फोन नंबर लिंक हो चुके हैं. हालांकि, जब प्रिया ने इस मामले को उठाया, तो यूआडीएआई ने इस पूरे मामले से पल्ला झाड़ लिया और इसका ठीकरा मोबाइल प्रोवाइडर पर फोड़ दिया.

दरअसल, दिल्ली के मयूर विहार में रहने वाली गृहणी प्रिया रैना पिछले हफ्ते जब अपना मोबाइल आधार से लिंक कराने ऐयरटेल स्टोर गईं, तो उन्हें बताया गया कि उनका फोन आधार से लिंक नहीं हो सकता क्योंकि उनके आधार से पहले ही 9 फोन नंबर लिंक्ड हैं. यह सुनकर उनके होश उड़ गए जिसके बाद उन्होंने ट्वीट कर अपनी नाराजगी जाहिर की.

प्रिया ने बताया कि ‘मुझे समझ ही नहीं आया कि मैं क्या करूं, क्योंकि मेरे पास तो कोई नंबर है ही नहीं. मैने ट्वीट किया, तीन दिन तक कुछ नहीं हुआ. पर ट्वीट वायरल हुआ तो सब जागे.’ प्रिया के मुताबिक, वो पिछले 17 साल से इस नंबर का सेवा ले रही हैं. जब उन्हें इस बारे में जानकारी मिली, तो उनकी ये हैरान जीवन की सबसे बड़ी हैरानी थी. जब ये मामला यूआडीएआई के पास पहुंचा तो उसने मामले में ट्वीट कर कमी का ठीकरा ऐयरटेल पर फ़ोड़ दिया.

आधार ने कहा कि ‘अब कम से कम इस बात की जानकारी तो हो सकती है कि एक नंबर से कितने सिम जारी हुए हैं. जबकि पहले इस बारे में पता करने का कोई सिस्टम ही नहीं था. यूआईडीएआई ने कहा है कि ऐसी परिस्थिति में मोबाइल कंपनी को बताना पड़ सकता है कि किस तरह उसने नंबर बिना सूचना के लिंक कर दिए. उनके खिलाफ कार्रवाई का भी प्रावधान है.

वहीं, ऐयरटेल ने अपनी गलती मान सॉफ्टवेयर में खराबी की बात मानते हुए मामले को सुलझा लेने की बात कही है. उधर, प्रिया का कहना है कि ‘आधार ने तो कह ही दिया कि ये मेरे और ऐयरटेल के बीच की बात है. ऐयरटेल ने अपनी गलती भी मान ली है. पर इस मामले से आधार को लेकर फिर से सवाल खड़े होने लगे हैं.’

advt
Back to top button