राष्ट्रीय

राफेल के दस्तावेज रक्षा मंत्रालय से चोरी होना शर्म की बात: शत्रुघ्न सिन्हा

पटना। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेतृत्व से नाराज चल रहे सांसद शत्रुघ्न सिन्हा ने गुरुवार को एक बार फिर केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि राफेल मामले से जुड़े दस्तावेज रक्षा मंत्रालय से चोरी हो जाना शर्म की बात है। उन्होंने जल्द ही भाजपा छोड़ने के संकेत भी दिए।

आईएएनएस के मुताबिक पटना साहिब से भाजपा सांसद शत्रुघ्न सिन्हा पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी के आवास पहुंचकर उनसे मुलाकात की। दोनों के बीच करीब डेढ़ घंटे तक बातचीत हुई। वहां से निकलने के बाद पत्रकारों से मुखातिब सिन्हा ने भाजपा छोड़ने के बावत पूछे जाने पर कहा, अब तो घड़ी नजदीक ही आ रही है। इंतजार कीजिए, परिणाम मिलेंगे और अच्छे मिलेंगे।

‘बिहारी बाबू’ के नाम से मशहूर फिल्म अभिनेता ने राफेल के मुद्दे पर कहा, “इस मामले की सुनवाई सर्वोच्च अदालत में चल रही है। इस पर ज्यादा कुछ तो नहीं बोल सकता, लेकिन इतना तो कह ही सकता हूं कि इतने अति महत्वपूर्ण मामले में दस्तावेज का रक्षा मंत्रालय से चोरी हो जाना शर्म की बात है। दुख की बात है।

‘शॉटगन’ सिन्हा ने अपने अंदाज में कहा, अली बाबा 40 चोर’ की तरह दस्तावेज चोरी होने की घटना की निंदा करता हूं। भारतीय सेना द्वारा पाकिस्तान में एयर स्ट्राइक किए जाने का सबूत मांगे जाने से संबंधित प्रश्न पर पूर्व केंद्रीय मंत्री सिन्हा ने इशारों ही इशारों में कहा, ताली सरदार को तो गाली भी सरदार को ही खानी पड़ती है।

उन्होंने कहा, “पार्टी के अध्यक्ष ने बिना किसी सबूत के 250 आतंकवादियों के मरने की बात कही। इसके बाद कई मंत्री अलग-अलग आंकड़े दे रहे हैं। कोई 300, कोई साढ़े 300 सौ कह रहे हैं। इतना ही नहीं, शहीदों के परिवार भी सबूत खोज रहे हैं। सरकार को सेना का मनोबल बढ़ाने के लिए भी सबूत देना चाहिए। इसमें हर्ज क्या है?

राबड़ी देवी से मुलाकात के बारे में पूछे जाने पर सिन्हा ने कहा, “मैं राबड़ी देवी और तेजस्वी यादव से मिलने आया था, क्योंकि ये लोग हमारे परिवार की तरह हैं और इनसे हमारा परिवारिक नाता है। क्या राजद के टिकट पर चुनाव लड़ेंगे? इस सवाल पर सांसद ने कहा, “जल्द ही निर्णय लूंगा।

Tags
Back to top button