राहुल ने केंद्र से न्याय योजना की तरह 20% गरीब लोगों को सीधे पैसा देने की मांग की

राहुल गांधी आज वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के ज़रिए देश के लोगों से बात की

रायपुर: कांग्रेस नेता राहुल गाँधी ने केंद्र सरकार से न्याय योजना की तरह 20% गरीब लोगों को सीधे पैसा देने की मांग की। उन्होंने कहा कि गरीबों को दिक्कत हो रही है और होने वाली है। इसलिए ये ज़रुरी है। उन्होंने मोदी से कहा कि न्याय योजना की जगह कोई और नाम रख लें.

राहुल गांधी ने कहा कि संकट के समय एकजुट रहना है जाति और धर्म के आधार पर हममे बंटवारा हुआ तो दिक्कत होगी। राहुल गांधी ने कहा कि भारत में इस बीमारी से मिडिल ऐज और युवाओ को भी खतरा है क्योंकि यहां वो बड़ी संख्या में शुगर, बीपी और हार्ट की समस्या से जूझ रहे हैं। उन्होंने कहा कि उन्हें ये बात बतानी पड़ेगी और इस आबादी के लिए अलग से योजना बनानी पड़ेगी.

राहल गांधी ने कहा कि लॉकडाउन के बाद की रणनीति पर अब ध्यान देना जरूरी है। अब इन बातों पर विचार करना है कि टेस्टिंग, मेडिकल की रणनीति क्या होगी? प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र और हॉस्पिटल को कैसे तैयार करेंगे? राहुल ने कहा कि लॉकडाउन के बाद बीमारी बढ़ने की आशंका है इसलिए एक्शन में देरी नहीं होनी चाहिए.

राहुल गांधी ने कहा कि बेरोजगारी शुरू हो गई है और इसका बहुत बुरा रूप आने वाला है। केंद्र को रोजगार देने वाले SMEs और बड़ी कंपनियों के लिए पैकेज तैयार करना चाहिए। काँग्रेस नेता राहुल गांधी आज वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के ज़रिए देश के लोगों से बात की।

राहुल गांधी ने कहा कि कोरोना से पैदा हुई मुश्किलों से ये देश बहुत बड़ा है। देश ने इससे भी बड़ी – बड़ी मुश्किलें देखीं हैं और निपटा है। भारत कोरोना के संकट से भी पार पा जाएगा.

Tags
Back to top button