प्रसिद्ध सोमनाथ मंदिर में दर्शन करने पहुंचे राहुल गैर हिंदू रजिस्टर पर हस्ताक्षर कर आए

प्रसिद्ध सोमनाथ मंदिर में दर्शन करने पहुंचे राहुल गैर हिंदू रजिस्टर पर हस्ताक्षर कर आए

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी अपने गुजरात दौरे पर हैं और बुधवार को वो प्रसिद्ध सोमनाथ मंदिर में दर्शन करने पहुंचे. लेकिन वो दर्शन के दौरान कुछ ऐसा कर बैठे है, जिससे गुजरात के चुनावी माहौल में भूचाल आ जाना तय है. दरअसल, सोमनाथ के मंदिर में ग़ैर-हिंदू दर्शनार्थियों के लिए एक रजिस्टर रखा गया है, जिसमें उन लोगों को हस्ताक्षर करने होते हैं, जो हिंदू नहीं हैं.

बुधवार को सोमनाथ मंदिर में दर्शन करने गए राहुल और अहमद पटेल ने उस रजिस्टर में साइन कर दिया. इसके बाद से गुजरात में राहुल विरोधी नेताओं को उनपर हमले करने का मौका मिल गया है. जैसे-जैसे यह ख़बर फैल रही है, राहुल को उनके धर्म के लिए निशाने पर लिया जा रहा है.

विरोधियों ने कहना शुरू कर दिया है कि इस साइन से वो सबूत सामने आ गया है, जो राहुल के ग़ैर-हिंदू होने का प्रमाण देता है. राहुल पर ग़ैर-हिंदू होने के आरोप इससे पहले भी लगते रहे हैं. यहां तक कि उनकी मां और कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के धर्म को लेकर भी ऐसी ही आपत्तियां जताई जाती रही हैं.

इसी रजिस्टर पर राहुल गांधी ने किया हस्ताक्षर

कैसे हुई चूक?

राहुल गांधी ने ऐसा जानबूझकर किया, इसका अंदेशा कम ही है. राहुल बार-बार अपने हिंदू होने की बात कहते रहे हैं और चुनाव के वक्त जमा किए गए शपथ पत्रों में भी उन्होंने खुद को हिंदू ही बताया है.

दरअसल, हुआ यह कि सोमनाथ मंदिर पहुंचने पर जब मंदिर की ओर से कहा गया कि जो लोग गैर-हिंदू हैं, वे एक अलग रजिस्टर में साइन कर दें, तो कांग्रेस की ओर से वहां मौजूदमीडिया कोऑर्डिनेटर ने अहमद पटेल और राहुल गांधी का नाम बता दिया. इसके बाद दोनों नेताओं को उस रजिस्टर में साइन करने के लिए कहा गया.

राहुल औऱ अहमद पटेल दोनों ही उस रजिस्टर में साइन कर आए और फिर कुछ समय बाद उस रजिस्टर की फोटो लोगों के बीच आ गईं.

भले ही राहुल से यह गलती भूलवश या उनके मीडिया कोऑर्डिनेटर की अज्ञानता के कारण हुई हो, लेकिन इसने भाजपा के नेताओं को राहुल पर हमले करने का मौका तो दे ही दिया है. राहुल विरोधी अब इस बात का व्यापक स्तर पर प्रचार करेंगे और राहुल का इससे निकल पाना आसान नहीं होगा.

कौन सा धर्म मानते हैं राहुल? उठते रहे हैं सवाल

राहुल गांधी कौन सा धर्म मानते हैं, इस पर सवाल उठते रहे है. हाल में ही जब राहुल गांधी ने गुजरात में लगातार मंदिरों का दौरा शुरू किया था, तो ये सवाल तेज हो गए थे. बीजेपी नेता सुब्रह्मण्यम स्वामी ने सीधे सवाल पूछा था. स्वामी ने कहा था- ‘उन्हें (राहुल गांधी) पहले ये साबित करना चाहिए को वह हिंदू हैं. मुझे शक है कि वो ईसाई हैं और 10 जनपथ के अंदर एक चर्च है’

Back to top button