1984 के सिख विरोधी दंगों के लिये माफी मांगें राहुल गांधी – भाजपा

नई दिल्लीः गुरू नानक देव के उल्लेख संबंधी राहुल गांधी के बयान के लिये उनकी आलोचना करते हुए भाजपा ने आज कहा कि उनकी पार्टी की पहचान साल 1984 के सिख विरोधी दंगों से जुड़ी है और स्वर्ण मंदिर पर इस जघन्य अपराध के लिये उन्हें माफी मांगनी चाहिए।

भाजपा के राष्ट्रीय सचिव आर पी सिंह ने कहा कि राहुल गांधी सिर्फ वोट बैंक की राजनीति के लिये गुरू नानक देव का उल्लेख कर रहे हैं, उनके लिये सिख सिर्फ वोट बैंक हैं। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी ने एक बार भी नहीं कहा कि 1984 में हुए सिखों के कत्लेआम में जिन लोगों पर आक्षेप है उनके खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए। राहुल गांधी को सिखों के वोट चाहिए, इसलिये गुरू नानक देव का उल्लेख कर रहे हैं।

भाजपा नेता ने कहा कि राहुल गांधी को सिखों के वोट चाहिए इसलिए वह अपने बयान के माध्यम से उस कहावत को चरितार्थ कर रहे हैं कि‘मित्र वही जो मुसीबत में काम आए लेकिन जब सिखों के साथ न्याय की बात होती है तब मित्रता दिखती नहीं है।

उल्लेखनीय है कि जर्मनी में एक कार्यक्रम के दौरान राहुल गांधी ने दर्शकों में मौजूद पंजाबी मूल के लोगों से मुखातिब होते हुए कहा कि गुरूनानक देव के समय से ही चली आ रही अनेकता में एकता का विचार ही कांग्रेस का विचार है। उन्होंने यह भी कहा कि जब जरूरत पड़ी तो आप हमारे साथ खड़े हुए और पंजाब में हमें जिताया। पंजाब में हमारी भी सरकार और आपकी भी सरकार है। आपके लिए मेरे दरवाजे हमेशा खुले हुए हैं।

Back to top button