राष्ट्रीय

गुजरात मॉडल फेल, गुजरात सरकार रिमोट से चल रही है

ध्रोल/टंकारा : कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने मंगलवार को भी मोदी सरकार पर प्रहार जारी रखते हुए कहा कि गुजरात की सरकार को नई दिल्ली से रिमोट कंट्रोल से चलाया जा रहा है। उन्होने इस बात को भी शर्मनाक बताया कि गुजरात में दुनिया की सबसे ऊंची मूर्ति के तौर पर स्थापित हो रही सरदार पटेल की प्रतिमा चीन बना रहा है जिस पर मेड इन चाइना लिखा होगा।

इस साल गुजरात में होने वाले विधानसभा चुनाव के मद्देनजर कल से द्वारका से शुरू हुई अपनी नवसर्जन गुजरात यात्रा के तीन दिवसीय पहले चरण के दूसरे दिन उन्होंने जामनगर के ध्रोल में एक जनसभा में कहा कि गुजरात की सरकार गुजरात से ही चलनी चाहिए पर ऐसा नहीं हो रहा। इस संबंध में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी अथवा भाजपा अध्यक्ष अमित शाह (दोनो गुजरात के) का नाम लिए बिना उन्होंने कहा कि सरकार रिमोट कंट्रोल से दिल्ली से चल रही है। अब राज्य की जनता गुस्से में है और यहां भाजपा के शासन में बदलाव चाहती है।

कांग्रेस के कार्यकर्ताओं को जनता के बीच जाकर यह बताना चाहिए कि कांग्रेस ही यह बदलाव ला सकती है। मध्य गुजरात के केवडिया में नर्मदा के सरदार सरोवर बांध के निकट प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की पसंदीदा योजना स्टेट््यू ऑफ यूनिटी के तौर पर बन रही सरदार पटेल की विशाल प्रतिमा के चीन में बनने का दावा करते हुए उन्होंने कहा कि इस मूर्ति के पीछे भी मेड इन चाइना लिखा होगा जो शर्म की बात है।

उन्होंने सोशल मीडिया पर बीजेपी विरोधी नारे विकास पागल हो गया है पर प्रहार करते हुए कहा कि देश और गुजरात में सरकार के झूठ पर झूठ बोलने से विकास पागल हो गया है। उन्होंने आरोप लगाया कि गुजरात की बीजेपी सरकार ने पाटीदारों और दलितों के साथ बहुत अन्याय किया है। जब यहां कांग्रेस की सरकार थी तो सभी लोग प्रेम से मिल कर एक साथ रहते थे।

ज्ञातव्य है कि पाटीदार अथवा पटेल समुदाय की खासी आबादी वाले सौराष्ट्र में गांधी की यात्रा से ठीक पहले इसके प्रमुख युवा नेता हार्दिक पटेल ने कल ट्वीट कर उनका स्वागत किया था और आज भी रामपुर पाटिया और फला गांव के पास पाटीदार समुदाय ने जय सरदार-जय पाटीदार के नारे के साथ उनका स्वागत किया। बाद में मोरबी के टंकारा में एक सभा के दौरान भी बडी संख्या में पीली टोपी पहन कर मौजूद रहे पाटीदार समाज के लोगों का गांधी ने अपने भाषण में विशेष उल्लेख किया।

उन्होंने उन्हें पीली टोपी पहन कर आये मेरे भाइयों कह कर संबोधित करने के बाद कहा कि आपका स्वागत है। उन्होंने नोटबंदी और अन्य मुद्दों पर प्रधानमंत्री मोदी और भाजपा पर फिर प्रहार किया और कहा कि भाजपा केवल अच्छी मार्केटिंग करती है पर इसका काम अच्छा नहीं है। मोदी ने बिना किसी से पूछे, रिजर्व बैंक के गर्वनर की भी बात सुने बिना नोटबंदी कर दी और बाद में रोने लगे। इसके चलते मोरबी के सिरामिक उद्योग भी बंदी की कगार पर आ गए हैं।

नोटबंदी से मोदी सरकार ने चोरो का काला धन सफेद कर दिया। कांग्रेस ऐसा कोई भी फैसला लेने से पहले जनता से जरूर पूछती। उन्होंने मोदी सरकार पर चुनींदा बडे उद्योगपतियों की मदद करने तथा किसानों का कर्ज माफ नहीं करने की बात भी दोहराई। ज्ञातव्य है कि गांधी मंगलवार को गुजरात में अपना दूसरा रात्रिविश्राम राजकोट में करेंगे। इससे पहले वह वहां किसानों और व्यापारियों के साथ जीएसटी और अन्य मुद्दों पर चर्चा करेंगे। कल उनकी यात्रा के पहले चरण का अंतिम दिन होगा।

विकास को क्या हो गया?
लोगों ने कहा ‘गाडो थई छो’

इस दौरान राहुल गांधी ने लोगों से पूछा कि विकास को क्या हो गया। इस पर लोगों ने कहा कि ‘गाडो थई छो’। ज्ञातव्य है कि विकास गाडो थई छो का नारा पिछले कुछ दिनों सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है। जामनगर में अपने भाषण के दौरान राहुल गांधी ने मोदी सरकार और गुजरात सरकार पर निशाना साधा।

Related Articles

Leave a Reply