राष्ट्रीय

राहुल गांधी बोले- ये मोदी जब भी विदेश दौरे पर जाएं, उस मोदी को वापस लेते आएं

गांधी ने कहा कि लोगों ने 2014 लोकसभा चुनाव से पहले नरेंद्र मोदी और भारतीय जनता पार्टी पर विश्वास जताया था

राहुल गांधी बोले- ये मोदी जब भी विदेश दौरे पर जाएं, उस मोदी को वापस लेते आएं

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की खिल्ली उड़ाते हुए मंगलवार को कहा कि इस बार वह जब भी विदेश दौरे पर जाएं, जैसा कि वह अक्सर जाते रहते हैं, स्वदेश लौटते समय भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी को भी साथ लेते आएं। कांग्रेस अध्यक्ष ने 27 फरवरी को मेघालय विधानसभा चुनाव के लिए अपने अभियान के दूसरे चरण के प्रारंभ में कहा, मैं सभी की तरफ से इस मोदी (प्रधानमंत्री) से अनुरोध करना चाहूंगा कि जब वह अपनी किसी विदेश यात्रा पर जाएं तो दूसरे मोदी (नीरव) को भी साथ में लेते आएं। हम अपनी गाढ़ी कमाई को वापस पाकर एक राष्ट्र के रूप में बड़े आभारी होंगे।
[responsivevoice_button voice=”Hindi Female” buttontext=”अगर आप पढ़ना नहीं
चाहते तो क्लिक करे और सुने”]
गांधी ने प्रधानमंत्री और नीरव के बीच एक तुलना भी की। उन्होंने कहा, नीरव मोदी हीरे बेचते हैं, जिसे वह सपने की वस्तु बताते हैं। वास्तव में, इसे कह सकते हैं कि उसने कई लोगों को सपने बेचे, जिसमें सरकार भी शामिल है, जो तब चैन की नींद ले रही थी, जब (नीरव ) मोदी जनता की मेहनत की कमाई लेकर भाग गया। कांग्रेस नेता ने कहा, कुछ साल पहले दूसरे (प्रधानमंत्री) मोदी ने भी भारत की जनता को सपने बेचे थे। सपने जो अच्छे दिन के थे, सभी के खाते में 15 लाख रुपये देने के, दो करोड़ नौकरियां देने के, और भी कई सारे सपने।

गांधी ने कहा कि लोगों ने 2014 लोकसभा चुनाव से पहले नरेंद्र मोदी और भारतीय जनता पार्टी पर विश्वास जताया था, क्योंकि उन्होंने बड़े-बड़े वादे किए थे और सोचा था कि मोदी उन्हें नौकरियां देंगे। उन्होंने कहा, किसानों ने सोचा कि उनकी मेहनत को सम्मान दिया जाएगा और उनके उत्पादन को सही दाम मिलेगा, जनजातियों को लगा कि उन्हें उनकी जमीन का समान हिस्सा मिलेगा और उनकी परंपरा और संस्कृति सुरक्षित रहेगी।

राहुल ने कहा, लेकिन इस सरकार के कार्यकाल के समाप्त होने के साथ ही यह स्पष्ट हो चुका है कि आशा, सुरक्षा और आर्थिक वृद्धि देने के बजाए उन्होंने हमें केवल निराशा, बेरोजगारी, भय, नफरत और हिंसा ही दी है।

उन्होंने कहा, विजय माल्या और नीरव मोदी घोटाले से हमें यह पता चल चुका है कि यह सरकार भ्रष्टाचार को नहीं हटा सकती, बल्कि उसमें सक्रिय भागीदारी भी निभाती है। राहुल ने मेघालय के 18.31 लाख मतदाताओं से अपील की कि वे लोकसभा सदस्य कोरनाड संगमा के नेतृत्व वाली नेशनल पीपुल्स पार्टी (एनपीपी) को वोट न दें, क्योंकि एनपीपी भाजपा की बी-टीम के रूप में काम कर रही है।

उन्होंने कहा,एनपीपी के जाल में नहीं फंसे।राहुल ने ध्यान दिलाया कि मणिपुर में कैसे एनपीपी ने भाजपा के साथ मिलकर सरकार बनाई है। कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, वे मणिपुर में भाजपा के साथ मिलकर सरकार चला रहे हैं, जिसे भाजपा ने गैर कानूनी पैसे और ताकत के दम पर बनाई है। आज, मैं आपसे वादा करता हूं कि हम मणिपुर जैसी स्थिति मेघालय में नहीं होने देंगे। कांग्रेस की ओर से मैं आपको इसका आश्वासन देता हूं। मेघालय में सत्ता बरकरार रखने पर विश्वास जताते हुए गांधी ने कहा कि कांग्रेस मेघालय में न्याय की मांग करने वाली हरेक आवाज को एकजुट करेगी।

Tags

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.