राहुल गांधी के चक्कर में राफेल की कीमत बताकर दुश्मनों की मदद नहीं करेंगे : रक्षा मंत्री

नई दिल्ली: रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने गुरुवार को एक कार्यक्रम के दौरान कहा कि राहुल गांधी की मांग है कि राफेल लड़ाकू विमान की कीमत का खुलासा किया जाए, लेकिन ऐसा करना दुश्मन की मदद करने जैसा होगा. उन्होंने कहा कि इसलिए इस एयरक्राफ्ट की कीमत का खुलासा वह नहीं कर सकतीं.

निर्मला सीतारमण की प्रतिक्रिया कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा सरकार से रकम का खुलासा करने को कहे जाने के बाद आई है. राहुल ने फ्रांस से 36 राफेल लड़ाकू जेट के सौदे में अनियमितताओं का आरोप लगाया था.

एक कार्यक्रम में रक्षा मंत्री ने कहा, ‘राहुल गांधी सरकार के खिलाफ युद्ध सामग्री की तलाश कर रहे हैं, लेकिन उन्हें कुछ भी नहीं मिला.’ उन्होंने कहा, ‘हमारी वायु सेना को मदद करने में राफेल अंतर-सरकारी समझौता का एक बेहतरीन उदाहरण है. हमने हर रूप में एक अच्छा सौदा किया है चाहे वे तत्परता की बात हो या कीमत की.’

रक्षा मंत्री ने कहा, ‘लेकिन कीमत का खुलासा करना राष्ट्रीय सुरक्षा के साथ समझौता करने जैसा होगा. मैं राहुल गांधी के अहम को संतुष्ट और इस परिष्कृत विमान के लिए देश के परिस्थितियों के अनुसार हवाई जहाज, युद्ध सामग्री और बदलावों के विवरण का खुलासा नहीं करना चाहती.’

फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों के भारत दौरे के दौरान भारत और फ्रांस ने इस महीने वर्गीकृत या संरक्षित सूचना के विनिमय और पारस्परिक संरक्षण को लेकर एक समझौते पर हस्ताक्षर किए थे. इस समझौते ने 2008 में हस्ताक्षरित पहले समझौते की जगह ली थी.

advt
Back to top button