उत्तर और दक्षिण भारत में जीत का विश्वास दर्शाता है राहुल गांधी का फैसला : शशि थरूर

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शशि थरूर ने किया सवाल

नई दिल्ली: वायनाड से लोकसभा चुनाव में खड़े होने का पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी के उत्तर भारत और दक्षिण भारत के फैसले को उनके जीत का विश्वास बताते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शशि थरूर ने सवाल किया.

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शशि थरूर ने कहा कि राहुल गांधी का फैसला उत्तर भारत और दक्षिण भारत, दोनों में जीत का उनका विश्वास दर्शाता है. लेकिन क्या प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी में केरल या तमिलनाडु की किसी सीट से चुनाव लड़ने का साहस है.

उन्होंने एक साक्षात्कार में कहा कि केरल के वायनाड निर्वाचन क्षेत्र से राहुल के चुनाव में खड़े होने के बाद दक्षिणी राज्यों में इस बात को लेकर ‘उत्साह साफ’ दिखाई दे रहा है कि अगला प्रधानमंत्री उनके क्षेत्र से निर्वाचित नेता हो सकता है.

थरूर ने मोदी और भाजपा के इस बयान को लेकर उनकी निंदा की कि राहुल गांधी ने बहुसंख्यक बहुल क्षेत्रों से ‘‘भागने’’ के लिए वायनाड को चुना. उन्होंने कहा कि सत्तारूढ़ पार्टी ने धर्मांधता फैलाने की बार बार कोशिश की है. यह दुखद है कि ऐसा प्रधानमंत्री कर रहे हैं.

उन्होंने तिरुवनंतपुरम से ‘पीटीआई-भाषा’ से कहा, ‘‘भारत के प्रधानमंत्री को सभी भारतीयों का प्रधानमंत्री होना चाहिए लेकिन भाजपा की धर्मांधता के अलमबरदार के रूप में अपनी भूमिका को मजबूत करके मोदी ने इस उसूली रुख को ठेस पहुंचाई है कि भारत के प्रधानमंत्री को समूचे भारतीयों का प्रधानमंत्री होना चाहिए.

Back to top button