OROP संशोधन को लेकर रक्षा मंत्रालय पर राहुल गांधी का निशाना, पूछे ये सवाल

न पेंशन (OROP) की लंबित समीक्षा से संबंधित सवाल किए।

नई दिल्ली/। रक्षा मामलों की संसदीय समिति की बैठक के दौरान कांग्रेस (Congress) के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने रक्षा मंत्रालय के शीर्ष अधिकारियों से वन रैंक, वन पेंशन (OROP) की लंबित समीक्षा से संबंधित सवाल किए।

 

रक्षा मामलों की संसदीय समिति में शामिल हुए राहुल
सूत्रों ने बताया कि मंत्रालय के अधिकारियों ने समिति को सूचित किया कि कुछ निश्चित मुद्दों को तय किया जाना बाकी है। इन मामलों को देखने के लिए एक समिति का गठन किया गया है और समिति द्वारा रिपोर्ट सौंपे जाने के बाद समीक्षा की जाएगी। वरिष्ठ भाजपा नेता जुएल उरांव की अध्यक्षता वाली रक्षा मामलों की संसदीय स्थायी समिति की बैठक शुक्रवार को हुई। इससे पहले गुरुवार को हुई बैठक में राहुल गांधी और उरांव के बीच तीखी बहस हुई थी।

 

OROP संशोधन को लेकर मंत्रालय से पूछे सवाल
गुरुवार को प्रमुख रक्षा अध्यक्ष जनरल विपिन रावत, तीनों सेनाओं के शीर्ष अधिकारी और रक्षा सचिव अजय कुमार गुरुवार को भाजपा नेता जुएल उरांव की अध्यक्षता वाली रक्षा मामलों की संसदीय समिति के समक्ष पेश हुए थे। सूत्रों ने बताया था कि उपस्थित अधिकारियों से कुछ चुनिंदा सवाल पूछे जाने को लेकर उरांव और गांधी के बीच बहस भी हुई, जिनके बारे में अध्यक्ष का मानना था कि वे बैठक के एजेंडे में शामिल नहीं थे।

 

राहुल गांधी का BJP पर आरोप
इससे पहले मध्य प्रदेश में 24 वर्षीय युवती के साथ हुए बलात्कार संबंधी रिपोर्ट का हवाला देते हुए कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने शुक्रवार को आरोप लगाया कि बीजेपी (BJP) बलात्कार के लिए हमेशा पीड़िता को ही जिम्मेदार ठहराती है। उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा ऐसे मामलों में दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करने में लापरवाही बरतती है। भोपाल में एक युवती ने व्यक्ति द्वारा बलात्कार करने और बुरी तरह मारपीट का आरोप लगाया था। उसने पुलिस पर मामले में लापरवाही बरतने का भी आरोप लगाया है।

 

पीड़िता को ही रेप के लिए जिम्मेदार ठहराती है BJP
राहुल गांधी ने ट्वीट कर आरोप लगाया, ‘भोपाल रेप पीड़िता एक महीने बाद भी न्याय से कोसों दूर है क्योंकि भाजपा हमेशा पीड़िता को ही बलात्कार का काम्मिेदार ठहराती है और कार्यवाही में ढील देती है जिससे अपराधियों को फायदा होता है।’ उन्होंने केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा, ‘यही है सरकार के ‘बेटी बचाओ’ का सच।’

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button