विवादों में राहुल की कैलाश मानसरोवर यात्रा, नॉनवेज खाने पर जंग

- काठमांडू के आनंद भवन स्थित वूटू फूड बुटिक में खाया खाना

नई दिल्ली :

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी इन दिनों कैलाश मानसरोवर की तीर्थयात्रा पर निकले हैं। हालांकि उनकी इस यात्रा को लेकर एक नया विवाद पैदा हो गया है। दरअसल नेपाल पहुंचने पर राहुल गांधी ने काठमांडू के आनंद भवन स्थित वूटू फूड बुटिक में खाना खाया। जिसके बाद नेपाली मीडिया ने दावा किया कि उन्होंने वहां नॉनवेज खाना खाया है। वहीं इस खबर के तूल पकड़ते ही रेस्टोरेंट ने सफाई दी है कि राहुल ने कोई नॉन वेज खान आॅर्डर नहीं किया था।

वूटू फूड बुटिक ने अपने फेसबुक पेज पर सफाई देते हुए कहा कि राहुल गांधी के नॉनवेज खाने को लेकर किए जा रहे दावे बिल्कुल झूठे हैं। उनके द्वारा आॅर्डर किए गए खाने को लेकर मीडिया की ओर से सवाल किए जा रहे हैं। हम स्पष्ट कर देना चाहते हैं कि उन्होंने मेन्यू में से शुद्ध शाकाहारी भोजन आॅर्डर किया था।

रेस्टोरेंट ने राहुल गांधी की फोटो भी पोस्ट की है जिसके साथ लिखा गया है कि उन्होंने फेमस वेज थाली संडेको वेज प्लेटर आॅर्डर की थी। इसमें कई तरह की सब्ज?ियां और साग परोसी जाती है। रेस्ट्रां के अनुसार कांग्रेस अध्यक्ष ने अचारी आलू और सादा वेज खाना खाया, जिसमें क्रिस्पी कॉर्न आदि शामिल था।

0-वेटर ने दिया अलग बयान

वहीं रेस्ट्रां के एक वेटर ने एक भारतीय मीडिया चैनल को बताया कि राहुल गांधी ने नेवारी डिश खाई जिसके तहत उन्होंने चिकन मोमो, चिकन कुरकुरे और बंदेल की डिश आॅडर की थी। होटल के वेटर और मैनेजमेंट की तरफ से अलग-अलग बयान सामने आने के बाद विवाद गहराता जा रहा है। भाजपा ने कांग्रेस अध्यक्ष पर धार्मिक भावनाओं को आहत करने का आरोप लगाया है।

-राहुल की कैलाश मानसरोवर यात्रा में विघ्न डालना चाहती है भाजपा : कांग्रेस

वहीं कांग्रेस ने इसे अफवाह बताते हुए कहा कि भाजपा राहुल की कैलाश मानसरोवर यात्रा में विघ्न डालना चाहती है। पार्टी के अनुसार जब होटल प्रबंधन ने कहा दिया कि राहुल गांधी ने शुद्ध शाकाहारी खाना खाया तो फिर बाकी का विवाद बेकार है, ये भाजपा का अजेंडा है।

बता दें कि यह पहली बार नहीं है कि जब कांग्रेस अध्यक्ष खाने को लेकर विवादों में घिरे हों। इससे पहले भी कर्नाटक चुनाव कैंपेन के दौरान भी मंदिर जाने से पहले उनके नॉनवेज खाने की अफवाह फैलाई गई थी।

Tags
Back to top button