राष्ट्रीय

मन की बात के लिए राहुल का सुझाव कहा – नीरव मोदी और राफेल घोटाले पर करें बात

नई दिल्ली : 25 फरवरी को होने वाले मन की बात प्रोग्राम के लिए नरेंद्र मोदी ने हमेशा की तरह लोगों से सुझाव मांगे हैं। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने इस पर कहा कि हर भारतीय ये चाहता है कि आप (मोदी) नीरव मोदी और राफेल घोटाले पर बोलें। पीएनबी-नीरव मोदी केस पर राहुल लगातार प्रधानमंत्री पर चुप्पी साधने का आरोप लगा रहे हैं। वे इससे पहले राफेल डील को लेकर भी प्रधानमंत्री पर आरोप लगा चुके हैं। पीएम के प्रोग्राम मन की बात पर राहुल गांधी ने दूसरी बार अपना सुझाव दिया है।

राहुल ने क्या कहा?

राहुल गांधी ने बुधवार को ट्वीट किया, “मोदीजी पिछले महीने मन की बात के लिए मेरे सुझावों को आपने नजरंदाज कर दिया था। आप आइडियाज क्यों मांगते हैं, जब आप दिल से इस बात को जानते हैं कि हर भारतीय आपसे किस बारे में सुनना चाहता है? पहला- नीरव मोदी की 22 हजार करोड़ की लूट और भागने पर। दूसरा- 58 हजार करोड़ के राफेल घोटाले पर। आपके उपदेशों का इंतजार कर रहा हूं।”

मन की बात पर इससे पहले क्या सुझाव दिए थे?

  • पीएम ने 28 जनवरी को होने वाले ‘मन की बात’ प्रोग्राम के लिए आइडिया मांगे थे।
  • इस पर राहुल ने लिखा था, “प्रिय नरेंद्र मोदीजी, अब जब आपने मन की बात के लिए कुछ आइडिया मांगे हैं तो हमें बताइए कि युवाओं को रोजगार, चीन को धोखा-लाम (डोकलाम) से बाहर करने और हरियाणा में बलात्कार को रोकने के लिए आपके पास क्या प्लान हैं।”

पीएनबी फ्रॉड पर अब तक क्या कहा राहुल ने?

  1. राहुल ने मंगलवार को कहा था, “मैं मोदीजी से निवेदन करना चाहूंगा कि जब वे अपनी अगली विदेश यात्रा पर जाएं तो दूसरे मोदीजी को वापस ले आएं।”
  2. रविवार को कांग्रेस अध्यक्ष ने ट्वीट किया, “पहले ललित, फिर माल्या, अब नीरव भी हुआ फरार। कहां है ना खाऊंगा, ना खाने दूंगा कहने वाला देश का चौकीदार? साहेब की खामोशी का राज जानने को जनता बेकरार, उनकी चुप्पी चीख-चीखकर बताए वो किसके हैं वफादार।”
  3. शनिवार को ट्वीट किया, “एग्जाम में कैसे पास हों, इस पर प्रधानमंत्री बच्चों को 2 घंटे की स्पीच देते हैं। लेकिन, 22 हजार करोड़ रुपए के बैंक स्कैम पर वो 2 मिनट भी नहीं बोलते।”
  4. गुरुवार को ट्वीट किया, “नीरव मोदी द्वारा भारत को लूटने की गाइड। 1- मोदी से गले मिलो, 2- दावोस में उनके साथ नजर आओ। इसका इस्तेमाल ऐसे करो। a. 12 हजार करोड़ चुराओ, b. जब सरकार दूसरी तरफ देख रही हो तो माल्या की तरह देश छोड़कर भाग जाओ।”

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.