राष्ट्रीय

रायगढ़ बिल्डिंग हादसा: प्रदेश सरकार ने की मुआवजे की घोषणा

राज्य सरकार ने रायगढ़ हादसे पर गहरा दुख भी जताया है.

रायगढ़/महाराष्ट्र : महाराष्ट्र के रायगढ़ जिले में इमारत गिरने की घटना में मरने वालों की संख्या बढ़कर दस हो गई है. अभी भी कई लोगों के मलबे में फंसे होने की बात कही जा रही है. घटनास्थल पर एनडीआरएफ की तीन टीम रेस्क्यू ऑपरेशन में जुटी हुई है. इसी बीच राज्य सरकार ने मृतकों के आश्रितों के साथ ही घायलों के परिजनों के लिए मुआवजे की राशि का ऐलान किया है. इसके साथ ही राज्य सरकार ने रायगढ़ हादसे पर गहरा दुख भी जताया है.

मृतकों के आश्रितों को पांच-पांच लाख रुपए मुआवजा 

कांग्रेस नेता और मंत्री विजय वडेट्टीवार ने हादसे पर शोक व्यक्त करते हुए कहा है कि ‘मृतकों के आश्रितों को पांच-पांच लाख रुपए मुआवजे के रूप में दिए जाएंगे. जबकि, प्रत्येक घायल को 50 हजार रुपए की आर्थिक मदद दी जाएगी.’ मंत्री वडेट्टीवार के मुताबिक ‘हादसे में अपना घर खोने वालों को भी मदद दी जाएगी. इसके लिए बुधवार को कैबिनेट की बैठक में प्रस्ताव रखा जाएगा.’ साथ ही मंत्री ने हादसे के जिम्मेवार लोगों पर कार्रवाई की बात भी कही है.

मंत्री विजय वडेट्टीवार के मुताबिक ‘इमारत में इस्तेमाल की गई सामग्री घटिया क्वालिटी की थी. वो हाथ से ही टूट रही है. लापरवाही के कारण मासूमों की मौत हुई है. मामले की जांच करके दोषियों को सजा दी जाएगी.’ बता दें सोमवार की शाम महाराष्ट्र के रायगढ़ जिले में पांच मंजिला आवासीय इमारत गिर गई थी. इस हादसे में दस लोगों की मौत हुई है, जबकि कई लोगों को सुरक्षित बाहर निकालकर अस्पताल भेजा गया है. अभी भी रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया जा रहा है.

पुलिस के मुताबिक इमारत दस साल पुरानी थी. इमारत में 45 फ्लैट थे. हादसे के बाद कई लोगों को मलबे से बाहर निकाला गया. मंगलवार को रेस्क्यू ऑपरेशन के दौरान एनडीआरएफ की टीम ने एक चार साल के बच्चे को सुरक्षित बाहर निकलने में सफलता पाई. रेस्क्यू ऑपरेशन के दौरान एनडीआरएफ की टीम को मलबे के अंदर बच्चा दिखाई दिया था, जिसे सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया. अधिकारियों के मुताबिक बच्चा ठीक है और उसका इलाज चल रहा है.

 

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button