रेल आर्डर, जिन्दल खरा उतरा गुणवत्ता में

55 प्रतिशत कार्य पूर्ण, समय से 5 माह पूर्व आपूर्ति पूर्ण हो जाएगी : अंसारी

रायपुर।

जिंदल स्टील एंड पावर लिमिटेड (जेएसपीएल) ने भारतीय रेलवे से रेल पांत आपूर्ति के कार्यादेश का करीब पचपन प्रतिशत कार्य पूरा कर लिया है। इन अनुपात की रेल पांतों की आपूर्ति भी कर दी गई है। यह जानकारी जेएसपीएल के संयुक्त प्रबंध संचालक नौशाद अंसारी ने दी है। उन्होंने बताया कि गत वर्ष जुलाई में भारतीय रेलवे द्वारा जारी किये गए ढाई हजार करोड़ रुपये के कार्य सम्बन्धी ग्लोबल टेंडर में से बीस प्रतिशत लम्बी रेल पांतों की आपूर्ति का कार्यादेश प्राप्त किया था.

अंसारी ने बताया कि प्राप्त कार्यादेश के अनुसार जेएसपीएल को एक वर्ष के भीतर 97,400 टन रेल पांतों की आपूर्ति करनी थी, जिसमें से 54,302 टन पांतों की आपूर्ति हो चुकी है. श्री अंसारी ने बताया कि शेष रेल पांतों की आपूर्ति फरवरी महीने के अंत तक करने का लक्ष्य है. इस तरह सम्पूर्ण रेल आपूर्ति का कार्य निर्धारित समय सीमा से काफी पहले ही पूरा कर लिया जायेगा.

उन्होंने इस बात पर संतोष जताया कि जेएसपीएल को भारतीय रेलवे द्वारा अपने ढांचागत विस्तार के महत्वपूर्ण कार्य के लिए चुना गया और इस प्रकार कंपनी को देश के नव निर्माण में अपनी भूमिका का अवसर मिला. उन्होंने कहा कि जेएसपीएल भविष्य में भी इस प्रकार के अहम् दायित्वों को निभाने के लिए हमेशा तत्पर रहेगा ।

अंसारी ने कहा कि मीडिया रिपोर्ट के अनुसार आगामी वषों में रेलवे को करीब इकतीस लाख टन रेल पांतों की जरुरत होगी और जिंदल समूह इस आपूर्ति में अपना सहयोग करने को तैयार है।

गौरतलब है कि रेलवे को रेल पांतों की आपूर्ति में जिंदल समूह के शामिल होने से पहले केवल सेल द्वारा ही यह कार्य किया जाता रहा है। उल्लेखनीय है कि आगामी वर्ष में रेलवे ने करीब 4,000 किमी रेल पांतों का हर वर्ष नवीनीकरण करने का लक्ष्य रखा है।

1
Back to top button