रेलवे की तैयारी, ट्रेनों में गांधी जयंती के मौके पर परोसा जाएगा शाकाहारी भोजन

नई दिल्ली :

माहत्मा गांधी की 150वीं जयंती को लेकर भारतीय रेलवे ने एक विशेष योजना बनाई है। ऐसे में यदि आप 2 अक्टूबर को ट्रेन से यात्रा कर रहे हैं तो आपको ट्रेन में शाकाहारी भोजन परोसा जाएगा। भारतीय रेलवे खानपान एवं पर्यटन निगम (आईआरसीटीसी) इस दिन ट्रेनों में खास शाकाहारी भोजन के मेन्यू को पेश करने वाला है। हालांकि गैर-शाकाहारी भोजन के विकल्प अगले दिन उपलब्ध हो जाएंगे।

आईआरसीटीसी के प्रवक्ता सिद्धार्थ सिंह ने कहा, ‘ट्रेनों में शाकाहारी भोजन की सेवा देने के लिए सभी क्षेत्रीय आईआरसीटीसी को निर्देश दे दिए गए हैं। गांधी जयंती के मौके पर शाकाहारी भोजन परोसा जाएगा।’ यदि कोई यात्री 1 अक्टूबर को यात्रा कर रहा है तो उसे शाकाहारी और गैर-शाकाहारी भोजन का विकल्प मिलेगा। लेकिन यदि वह 2 अक्टूबर को यात्रा कर रहा है तो उसे केवल शाकाहारी भोजन मिलेगा। 3 तारीख को गैर-शाकाहारी भोजन का विक्लप एक बार फिर से उपलब्ध हो जाएगा।

जनवरी में रेलवे बोर्ड ने गांधी जयंती के मौके पर शाकाहारी भोजन परोसने का विचार पेश किया गया था। इस निर्णय को लागू करने का निर्णय पिछले हफ्ते लिया गया। गांधी जंयती पर परोसे जाने वाले विशेष मेन्यू में पराठा, कुल्चा, पनीर के व्यंजन और कई तरह के डेजर्ट होंगे। केंद्रीय और पश्चिमी रेलवे गांधी जयंती पर डिजिटल संग्रहालय लॉन्च करेंगी और साफ-सफाई का काम करेंगी। इसके लिए स्वच्छता पखवाड़ा 15 सितंबर से शुरू होगा और 2 अक्टूबर को खत्म होगा। जिसका मकसद रेलवे परिसर और शौचालयों की सफाई पर ध्यान केंद्रित करना है।

डिजिटल संग्रहालय को छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनय में सेटअप किया जाएगा और इसमें महात्मा गांधी के नेतृत्व में चलाए गए स्वतंत्रता संग्राम और भारतीय रेलवे के इतिहास को दर्शाया जाएगा।

केंद्रीय रेलवे के विभागीय रेलवे प्रबंधक एसके जैन ने कहा, ‘पहली यात्री ट्रेन बोरी बंडर रेलवे स्टेशन से ठामे के बीच चलाई गई थी। भारतीय रेलवे के इतिहास के साथ ही पहली यात्री रेल के संचालन को भी डिजिटल संग्रहालय में दिखाया जाएगा।’ केंद्रीय रेलवे महात्मा गांधी के जीवन को छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनस पर दर्शाने की योजना बना रही है क्योंकि गांधी यहां आए थे।

Tags
Back to top button