राष्ट्रीय

केरल में एर्नाकुलम के जंगलों में बारिश, बाढ़ में बहा हाथी, मौत

एक बड़ी आबादी सुरक्षित ठिकानों की ओर रुख कर रही

नई दिल्ली: केरल से लेकर हिमाचल तक और गुजरात से लेकर असम तक बारिश आफत बनकर बरस रही है. महीनों से पानी की मार झेल रही धरती और पहाड़ अभी भी चूर चूर हो रहे हैं. दक्षिण भारत में तो मॉनसून ने ऐसा पलटकर वार किया है कि एक बड़ी आबादी सुरक्षित ठिकानों की ओर रुख कर रही है.

उनके घरों और बस्तियों में पानी भर गया है. नदी से बह कर आने वाले जीवों से उनकी जान जोखिम में नजर आ रही है. जंगल में पानी के बहाव में हाथी तक बह गए हैं. कई घर नष्ट हो गए है.

मुंबई पानी -पानी है, तो उत्तराखंड और हिमाचल में जमीन के कटने और लैंड स्लाइड की वजह से कई मुख्य सड़कों पर आवाजाही ठप है. केरल में एर्नाकुलम के जंगलों में इतनी बारिश हुई कि बाढ़ के पानी में एक जंगली हाथी भी बह गया. पेरियार नदी में पानी की चपेट में आये इस हाथी की मौत हो गई.

जब उसकी लाश तेज पानी में बहते लोगों ने देखी तो उसे एर्नाकुलम के पास नेरियामंगलम इलाके में निकाला गया. राज्य के वायनाड इलाके में भी बाढ़ के हालात बने हुए हैं. लगातार बारिश से राज्य की सभी नदियां उफन रही हैं. पनामारम इलाके में सैकड़ों लोग फंसे हुए हैं.

केरल के इडुक्की में लैंडस्लाइड में 5 लोगों की मौत हो गई है. जबकि राहत और बचाव दल ने 10 लोगों को पानी में डूबने से बचा लिया. सैकड़ों बस्तियों का हाल टापू जैसा है. इन मकानों के आगे पीछे से नदी जैसी धार बह रही है, इलाके की सड़कें भी नदी की शक्ल ले चुकी हैं.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button