राष्ट्रीय

केरल में बारिश से भूस्खलन, 26 लोगों की मौत

बारिश के बाद 24 बांधों के गेट खोले गए

तिरुवनंतपुरम : केरल में आफत की बारिश थमने का नाम नहीं ले रही है. लगातार रुक-रुककर हो रही बारिश के कारण राज्य में बीते 24 घंटे में मरने वालों की संख्या 18 से 24 पहुंच गई है. वहीं, मौसम विभाग ने शुक्रवार को भी राज्य में तेज बारिश का अलर्ट जारी कर दिया था.

कोचीन अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे (सीआइएएल) के प्रवक्ता ने बताया कि एहतियात के तौर पर गुरुवार दोपहर 1.10 बजे एयरपोर्ट पर आने वाली फ्लाइटों को उतरने से रोक दिया गया था। दोपहर 3.05 बजे फिर संचालन शुरू कर दिया गया। सीआइएएल पेरियार नदी के निकट स्थित है।

तीन जिलों में सेना तैनात कर दी गई है, जबकि दो अन्य जिलों में भेजी जा रही है। वहीं राज्य में बारिश और बाढ़ की भयावहता को देखते हुए प्रधानमंत्री ने मुख्यमंत्री विजयन से बात करके हरसंभव सहायता देने का आश्वासन दिया है। पिछले दो दिनों में 10 हजार से अधिक लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है।

गृह मंत्रालय के प्रवक्ता के मुताबिक, भारी बारिश और भूस्खलन से इडुक्की और मलप्पुरम जिले में 17 लोगों की मौत हुई है। इडुक्की में एक ही परिवार के पांच लोगों की जान गई है। राहत और बचाव कार्य में मदद के लिए राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) की चार टीमें चेन्नई से केरल भेजी गई हैं।

बेंगलुरु से सेना की टुकड़ी भी भेजी गई है। केंद्र सरकार का एक अंतर मंत्रालयी दल भी बाढ़ प्रभावित इलाकों का दौरा कर रहा है।

Summary
Review Date
Reviewed Item
केरल में बारिश से भूस्खलन, 26 लोगों की मौत
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags
jindal