छत्तीसगढ़

गांधीगिरी कर वसूलेंगे लोन, देंगे कर्ज़दार को गुलाब

फिल्म लगे रहो मुन्नााभाई तो सबको याद होगी। इसमें दिखाया गया कि कोई आपके साथ बुरा भी करे तो आप मुस्कराएं और उसे फूल भेंट करें। एक न एक दिन उसका दिल पसीजेगा और वह अपनी गलती मानेगा।

इसी थीम पर बैंकिंग प्रबंधन भी लोन लेकर न चुकाने वालों के खिलाफ गांधीगिरी का तरीका अपनाने वाला है।

इसके तहत बैंक की कर्ज वसूलने वाली टीम के साथ उच्चाधिकारी भी कर्जदार के घर जाएंगे और शालीनता से उन्हें उनका कर्ज याद दिलाएंगे। साथ ही गुलाब का फूल भेंट करेंगे।

यह नुस्खा पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) अपनाने वाला है। बैंक के अधिकारियों का कहना है कि कर्जदारों से रिकवरी के लिए यह जरूरी है। इस तरीके का उद्देश्य यही है कि ऋणी शर्मिंदा होकर कर्ज पटाने तैयार हो जाए।

कुछ क्षेत्रों में यह तरीका अपनाया भी जा रहा है। पिछले साल बकाया वसूली के लिए कर्जदारों के घर के बाहर बैंक कर्मचारियों ने प्रदर्शन किया था, ढोल बजाए थे, ताकि वे शर्मिंदगी महसूस करें।

अभी बैंक में उन बड़े बकाएदारों की सूची तैयार की जा रही है, जो बार-बार नोटिस के बाद भी चुप बैठे हुए हैं। बैंकिंग सूत्रों के अनुसार लगातार बढ़ते एनपीए (नेट प्रॉफिट एसेसमेंट) को देखते हुए आरबीआई ने सभी बैंकों को रिकवरी पर अधिक ध्यान देने का निर्देश दिया है। इस चलते बैंक इस प्रयास में जुटे हैं कि किसी भी तरह लोन की वसूली की जाए।

Tags
Back to top button