रायपुर: शास. दू. ब. महिला महाविद्यालय में प्रारंभ हुआ छात्राओं का इंडक्शन प्रोग्राम…

रायपुर. आज दूसरे दिन वाणिज्य व गृहविज्ञान संकाय की छात्राओं को महाविद्यालय परिवार, प्राध्यापकों, गतिविधियों तथा उपलब्धियों से अवगत कराया गया। प्राचार्य डॉ श्रद्धा गिरोलकर ने छात्राओं का स्वागत किया, उन्होंने कहा कि कोरोना ने हमें दूर कर दिया था पर अब हमें फिर से साथ मिलकर आगे बढ़ना है। आपने छत्तीसगढ़ के सबसे बड़े महिला महाविद्यालय में प्रवेश लिया है तो हमारी आपसे कई आशाएं ,अपेक्षाएं भी हैं और आपसे उम्मीद है कि आप उनके अनुरूप प्रयास व व्यवहार करेंगे । अब आप आजीवन इस महाविद्यालय परिवार के सदस्य रहेंगे.

Iqac प्रभारी डॉ उषाकिरण अग्रवाल ने अपने वक्तव्य में कहा कि हम सबने पिछले दो वर्षों में बहुत कठिन दौर देखा है पर अपने संकल्पों से हम पुनः साथ एकत्रित हैं ।उन्होंने बताया कि 2018 ugc गाइड लाइन के आधार पर ये इंडक्शन आयोजित किया गया है ,उसके सभी प्रमुख बिंदु जैसे सामाजिकता ,एकता ,अनुशासन , सहयोग ,सौहार्द्र आदि गुणों को विकसित करने का आह्वान किया। वाणिज्य संकाय के कार्यक्रम संयोजक डॉ ज्ञानेंद्र शुक्ला ने छात्राओं को वाणिज्य संकाय में पढ़ाए जाने वाले विषयों की विस्तृत जानकारी दी । होमसाइंस की विभागाध्यक्ष डॉ ज्योति रवि तिवारी ने विषय के सैद्धांतिक तथा प्रायोगिक पक्ष से छात्राओं को अवगत कराया।

महाविद्यालय में संचालित विभिन्न गतिविधियों के बारे में भी बताया। इन सबका छात्राओं के व्यक्तित्व विकास में क्या योगदान है यह भी बताया । डॉ सविता मिश्रा ने हिंदी तथा डॉ जया तिवारी ने इंग्लिश विभाग का ppt के माध्यम से प्रस्तुतिकरण दिया। स्वशासी प्रकोष्ठ का परिचय प्रभारी डॉ अभया जोगलेकर ने दिया। डॉ गौतमी भतपहरी, डॉ नीतू हरमुख , डॉ रश्मि मिंज, डॉ. मंजू श्रीवास्तव, डॉ नंदा गुरुवारा, डॉ अनुभा झा, डॉ कल्पना पॉल, डॉ रश्मि दुबे ,श्रीमती चंद्र ज्योति श्रीवास्तव, डॉ अलका वर्मा , डॉ रेखा दीवान, डॉ रितु मारवाह , डॉ कल्पना मिश्रा उपस्थित थे, महाविद्यालय के सभी प्राध्यापको को बच्चों ने जाना। पूरा हॉल खचाखच छात्राओं से भरा था और तालियों की गड़गड़ाहट से गूंज रहा था।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button