क्राइमरायपुर

बूढ़ा तालाब में बोरी में मिली लाश की की गुत्थी रायपुर पुलिस ने सुलझाई

बोरियाकला निवासी मृतक की दूसरी पत्नी को भी शक के आधार पर पूछताछ की जा रही है,सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार यह महिला पूर्व में चाकूबाजी के अपराधों में भी संलिप्त रह चुकी है।

ब्यूरो चीफ : विपुल मिश्रा
संवाददाता : मनीषा त्रिपाठी

राजधानी रायपुर के बूढ़ा तालाब में बोरी में मिली लाश की की गुत्थी रायपुर पुलिस ने सुलझा ली है,हत्या के इस मामले में पुलिस ने मृतक शेख आशिक कादर उर्फ फिरोज उर्फ कनवा आशिक के सौतेले लड़के शाहरुख(19 वर्षीय) व उसके एक हरियाणवी मित्र को हिरासत में लिया है।

आपको बता दें कि मृतक के कादरबाड़ा, गुरुनानक चौक स्थित घर में मिली बोरी ने ही पूरा राज़ खोल दिया,पुलिस ने बताया कि एक सफेद रंग की प्लास्टिक बोरी में मृतक का हाथ पैर रस्सी तथा साड़ी के टुकड़े से बंधा मिला जिसके गले, दाहिने आंख, सिर तथा बाएं पैर के घुटने के पास चोट के निशान थे,शव को पोस्टमार्टम के लिए रवाना कर दिया गया है,पुलिस ने बताया कि मृतक की दो पत्नी है,बोरियाकला निवासी मृतक की दूसरी पत्नी को भी शक के आधार पर पूछताछ की जा रही है,सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार यह महिला पूर्व में चाकूबाजी के अपराधों में भी संलिप्त रह चुकी है।

बोरी ने निभाया अहम किरदार

इस पूरे मामले में अहम किरदार बोरी ने निभाया है, बोरी पर चॉइस फर्नीचर का लोगो पाया गया,पुलिस ने पाया कि मृतक के घर पर फर्नीचर का काम चल रहा था,इसी दौरान घर पर काम करने वाला हरयाणवी वेल्डर बची हुई खाली बोरियों को मृतक की दूसरी पत्नी के घर पर लेजाकर रखता था व इस हरियाणवी वेल्डर को भी मृतक के सौतेले बेटे शाहरुख ने ही बुलवाया व मृतक के घर काम पर लगवाया था,मृतक के परिजनों ने बताया कि कादर 3 दिनों से लापता था,अब तक हत्या करने की वजह स्पष्ट नही हो पाई है। पुलिस ने हत्या सहित साक्ष्य मिटाने के अपराध में FIR दर्ज कर ली है व मामले की जांच में जुटी है।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button