रायपुर आरटीओ की सरकारी गाड़ी से टक्कर, बालिका की मौत, 1 करोड़ मुआवजे की मांग

आलोक मिश्रा:

बलौदा बाजार: बलौदा बाजार जिला मुख्यालय से लगभग 20 किलोमीटर दूर मुंह पर गांव में शासकीय वाहन की ठोकर से 4 वर्ष बालिका सोना साहू की दर्दनाक मौत हो गई। सरकारी गाड़ी सीजी 02सी 4500 नंबर की गाड़ी रायपुर आरटीओ सैलाब साहू की बताई जा रही है,

जिसे चालक शंकर बघेल 28 वर्ष चला रहा था घटना के बाद करीब 300 से ज्यादा ग्रामीणों ने बच्ची के शव को सड़क पर रखकर चक्का जाम कर दिया और चालक शंकर की जमकर पिटाई की। बाद में पुलिस को खबर लगने के बाद पुलिस के हस्तक्षेप से सबको अस्पताल भेजा गया और आरोपी ड्राइवर और गाड़ी को थाने में लाया गया।

गुस्साए ग्रामीणों की मांग 50 लाख से 1 करोड़ रुपए तक

गुस्साए ग्रामीणों की मांग 50 लाख से 1 करोड़ रुपए तक मुआवजे को लेकर अड़े थे। ग्रामीणों की मांग थी जब तक मुआवजा नहीं मिल जाता तब तक बच्ची का पीएम नहीं करने देंगे। वही मृतक बच्ची सोना साहू खपरी से अपने पिता योगेश साहू और दादा के साथ रिश्तेदार के यहां मोपर गांव में दशहरा देखने आई थी। घटना के दौरान यह बच्ची सड़क के उस पार स्थित हैंडपंप पर पानी के लिए गई थी। हैंड पंप से लौटते समय यह घटना घटी।

मोपर गांव में दशहरा बुधवार 9 अक्टूबर को मनाया जा रहा था जिसे देखने रायपुर आरटीओ सैलाब साहू की मां इस सरकारी टाटा सफारी वाहन से अपने मायके मो पर जा रही थी। ग्रामीणों के अनुसार गाड़ी की रफ्तार काफी तेज थी और घटनास्थल पर पहुंचते-पहुंचते ड्राइवर गाड़ी को नियंत्रित नहीं कर सका और उसने सीधे मृतिका सोना साहू को अपनी चपेट में ले लिया। मृतिका सोना साहू भी अपने मामा के घर दशहरा देखने आई थी।

वही इस घटना के संबंध में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक निवेदिता पाल ने कहा की घटना दुखद है जिस पर विधिवत वैधानिक कार्यवाही की जा रही है। गाड़ी और चालक दोनों को सुहेला थाना लाया जा चुका है। फिलहाल स्थिति पूरी तरह शांत और नियंत्रण में है

Back to top button