रायपुर : मुख्यमंत्री ने किया नन्हे चित्रकार हर्ष रजक का उत्साहवर्धन

शासकीय उच्चतर माध्यमिक शाला, चांटीडीह में प्रयोगशाला और लाइब्रेरी प्रारम्भ करने की घोषणा

हर्ष के हुनर के बारे में समाचार से अवगत हो मुख्यमंत्री ने स्वयं मिलने बुलाया

रायपुर 07 नवम्बर 2021: 16 वर्षीय कक्षा दसवीं के छात्र हर्ष रजक ने कभी नहीं सोचा था कि इंद्रधनुषी रंगों के लिए उसके जुनून और चित्रकारी के टैलेंट के लिए एक दिन उसे मुख्यमंत्री निवास में मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल से शाबाशी मिलेगी।

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने आज शाम यहां उनके निवास कार्यालय में नन्हंे प्रतिभावान चित्रकार हर्ष रजक से मुलाक़ात की। मुख्यमंत्री श्री बघेल ने शासकीय उच्चतर माध्यमिक शाला, चांटीडीह, बिलासपुर में कक्षा दसवीं के छात्र और चित्रकला में माहिर हर्ष रजक द्वारा भाव-भंगिमा के साथ हूबहू चित्र उकेरने की प्रतिभा के बारे में समाचारों से अवगत हो आज हर्ष को मुलाक़ात के लिए स्वयं मुख्यमंत्री निवास बुलाया और हर्ष के हुनर की सराहना कर उसका हौसला बढ़ाया।

मुख्यमंत्री ने हर्ष से आगे की पढ़ाई के विषय में पूछा तो उसने बताया कि वह सॉफ्टवेयर इंजीनियर बनना चाहता है। कक्षा ग्यारहवीं में विज्ञान विषय लेकर पढ़ना चाहता है, इसके लिए विद्यालय में लैब की आवश्यकता है। मुख्यमंत्री ने शासकीय उच्चतर माध्यमिक शाला, चांटीडीह में प्रयोगशाला और लाइब्रेरी प्रारम्भ करने की घोषणा की। हर्ष ने मुख्यमंत्री श्री बघेल को अपने हाथों से बनाये उनके तथा एक आदिवासी बाला के चित्र भेंट किये।
हर्ष ने मुख्यमंत्री को बताया कि कक्षा छठवीं-सातवी से ही उसका चित्रकला के प्रति रुझान था, इसके लिए उनके पिता, शिक्षकों और प्राचार्य द्वारा प्रोत्साहन दिया गया, शुरू में वह नॉर्मल स्øेचिंग करने के बाद वाटर कलर से पेंटिंग बनाने का अभ्यास किया। लॉकडाउन के समय उसने कलर पेंसिल से ड्राइंग तैयार करना शुरू किया। आज वह फ्री हैंड स्केचिंग के ज़रिए किसी का भी पूरी भाव-भंगिमा के साथ हुबहू चित्र बना लेता है।
हर्ष ने बताया कि इस वर्ष जिला स्तरीय राज्योत्सव कार्यक्रम में उसने कलेक्टर डॉ सारांश मित्तर और मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल का स्केच बनाया। जहां उसकी प्रतिभा को खूब सराहा गया। प्रोत्साहन के बतौर कलेक्टर ने 5 हजार रूपए की पेंटिंग खरीदी, जिला स्तरीय राज्योत्सव के मुख्य अतिथि और संसदीय सचिव श्री इंदर शाह मंडावी ने भी चित्रकला से प्रभावित होकर उन्हें 11 सौ रूपए का पुरस्कार दिया। हर्ष ने बॉलीवुड के कई कलाकारों और प्रधानमंत्री के भी चित्र बनाए हैं, जिसे लोगों ने बहुत सराहा है।

हर्ष ने बताया कि उसके पिता श्री संतोष रजक होटल में कार्य करते हैं और माता श्रीमती ईश्वरी रजक सिलाई कढ़ाई का काम करती हैं। सहायक संचालक शिक्षा श्री संदीप चोपड़े ने बताया कि हर्ष रजक 14-15 नवम्बर को रायपुर में आयोजित होने वाले कला महोत्सव में स्कूल शिक्षा विभाग की तरफ से राज्य स्तरीय प्रतिनिधित्व करेंगे। इस अवसर पर हर्ष के पिता श्री संतोष रजक, जिला शिक्षा अधिकारी श्री एस के प्रसाद, प्राचार्या श्रीमती अलका अग्रवाल और श्रीमती अर्चना जोशी सहित अन्य लोग उपस्थित थे।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button