राजस्थानराज्य

रिपोर्ट कार्ड सुधारने में लगीं वसुंधरा राजे, 6 महीने में 980 करोड़ का रिंग रोड पूरा करने का फरमान

राजस्थान सीएम ने रिपोर्ट कार्ड सुधारने के लिए रिंग रोड को प्राथमिकता दी है। उन्होंने 47 किलोमीटर रिंग रोड को 6 महीनों के अंदर पूरा करने का फरमान सुनाया है। सिंधिया ने अधिकारियों को इस बात की जानकारी दे दी है कि वह 980 करोड़ रुपए के इस प्रोजेक्ट को मात्र 6 महीनों में पूरा होते देखना चाहती हैं।

किसी भी राजनेता के ऊपर अगर कोई चीज या घटना सबसे ज्यादा असर करती है तो वह है चुनावी झटका। ऐसा ही कुछ होता दिख रहा है राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सिंधिया के साथ। राजस्थान में हुए उपचुनावों में मिले झटके के बाद अब बीजेपी अपने काम में गति लाते हुए दिख रही है।

राजस्थान में दो संसदीय सीट और एक विधानसभा सीट पर हुए उपचुनावों में बीजेपी की करारी हार के बाद सीएम सिंधिया अपना रिपोर्ट कार्ड सुधारने की तैयारी कर रही हैं। जल्द ही राज्य में विधानसभा चुनाव भी होने वाले हैं, उसे देखते हुए भी सिंधिया के लिए काम में गति लाना जरूरी हो गया है।

राजस्थान सीएम ने रिपोर्ट कार्ड सुधारने के लिए रिंग रोड को प्राथमिकता दी है। उन्होंने 47 किलोमीटर रिंग रोड को 6 महीनों के अंदर पूरा करने का फरमान सुनाया है। सिंधिया ने अधिकारियों को इस बात की जानकारी दे दी है कि वह 980 करोड़ रुपए के इस प्रोजेक्ट को मात्र 6 महीनों में पूरा होते देखना चाहती हैं।

बता दें कि हाल ही में राजस्थान में दो लोकसभा और एक विधान सभा की सीट पर उपचुनाव हुए थे। इन चुनावों में बीजेपी को मुंह की खानी पड़ी थी, क्योंकि तीनों ही सीटों पर कांग्रेस ने कब्जा कर लिया था।

अलवर संसदीय सीट से बीजेपी के जसवंत सिंह यादव को कांग्रेस उम्मीदवार करण सिंह यादव ने 1,56,319 वोट से हराया था, तो वहीं अजमेर संसदीय सीट पर भी कांग्रेस प्रत्याशी रघु शर्मा ने जीत हासिल की। मांडलगढ़ विधानसभा सीट पर कांग्रेस उम्मीदवार विवेक धाकड़ ने 12,976 वोटों से जीत हासिल करते हुए बीजेपी के शक्ति सिंह को हराया था।

इन चुनावों के परिणाम के बाद से ही बीजेपी ने राज्य में काम की गति तेज कर दी है। नतीजों के बाद सिंधिया ने कहा था कि यह परिणाम उनके लिए वेक-अप कॉल की तरह हैं। उन्होंने कहा बीजेपी की मीटिंग में कहा था, हम इस बात पर विचार कर रहे हैं कि इतना विकास करने के बाद भी ऐसा परिणाम क्यों आया।

इसके साथ ही उन्होंने पार्टी के विधायकों और कार्यकर्तओं को आश्वासन दिया था कि इस हार से हतोत्साहित होने की जरूरत नहीं है, बल्कि विधानसभा चुनावों में सफलता पाने के लिए तैयार होने की जरूरत है।

Summary
Review Date
Reviewed Item
रिपोर्ट कार्ड सुधारने में लगीं वसुंधरा राजे, 6 महीने में 980 करोड़ का रिंग रोड पूरा करने का फरमान
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags
jindal

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.