आई.पी.एलक्रिकेटखेल

राजस्थान ने 10 रनों से जीता मैच, दिल्ली को मिली लगातार दूसरी हार

जयपुर: राजस्थान राॅयल्स ने दिल्ली डेयरडेविल्स को डकवर्थ लुईस नियम के तहत 10 रनों से हराकर पहली जीत दर्ज कर ली है। वहीं यह दिल्ली की लगातार दूसरी हार रही। इससे पहले दिल्ली डेयरडेविल्स आैर राजस्थान राॅयल्स के बीच चल रहे टूर्नामेंट के छठे मुकाबले में बारिश ने खलल डाल दिया।

डकवर्थ लुईस नियम के तहत राजस्थान ने दिल्ली को 6 ओवर में 71 रनों का लक्ष्य दिया। इससे पहले बल्लेबाजी करने आई राजस्थान की टीम को फिर से ओपनर डीआर्सी शाॅर्ट ने निराश किया। शाॅर्ट ने पुरानी गलती दोहराते हुए रन आउट के रूप में अपना विकेट गंवा दिया। वह 6 रन बनाकर पवेलियन लाैटे। उनके आउट होने के बाद अब बेन स्टोक्स ने कुछ अच्छे शाॅट खेले, लेकिन वह पांचवे ओवर की पहली गेंद पर कैच आउट होकर 16 रन बनाकर पवेलियन हो गए। इसके बाद तीसरा विकेट संजू सैमसन(37) के रूप में गिरा, उन्हें नदीम ने बोल्ड किया।

दिल्ली में अमित मिश्रा की जगह शहवाज नदीम आैर क्रिसचेन की जगह ग्लेन मैक्सवेल को टीम में शामिल किया गया। राजस्थान की टीम दो साल के निलंबन के बाद आईपीएल में लौटी है और अपने घरेलू मैदान जयपुर में पहला मैच खेलने जा रहे हैं। राजस्थान क्रिकेट संघ भी हाल के समय में उथल पुथल के दौर से गुजरा था और काफी मशक्कत के बाद उसे आईपीएल मैचों की मेजबानी की मंजूरी मिली थी।

अपनी जीत की लय बनाने के लिए दोनों टीमें लगाएंगी जोर : राजस्थान को अपने पहले मैच में कल हैदराबाद में सनराइजर्स हैदराबाद के हाथों नौ विकेट की करारी हार का सामना करना पड़ा था जबकि दिल्ली की टीम आठ अप्रैल को मोहाली में किंग्स इलेवन पंजाब के हाथों छह विकेट से मात खा गई थी। दोनों ही टीमें इस मैच में जीत हासिल करने के लिए पूरा जोर लगा देंगी। दिल्ली के कप्तान गौतम गंभीर को देखना होगा कि उनकी टीम राजस्थान के खिलाफ अच्छा स्कोर खड़ा करे। गंभीर ने पंजाब के खिलाफ अर्धशतक तो बनाया था लेकिन बाकी बल्लेबाज उम्मीदों के अनुरूप प्रदर्शन नहीं कर सके थे।

रिषभ पंत दिल्ली को तेज तर्रार शुरूआत दे सकते हैं : गंभीर को युवा विकेटकीपर रिषभ पंत के बल्लेबाजी क्रम के बारे में अभी से तय कर लेना होगा। यह बल्लेबाज ओपनिंग में टीम को तेज तर्रार शुरूआत दे सकता है जिस तरह की शुरूआत केकेआर को सुनील नारायण दे रहे हैं। पंत पंजाब के खिलाफ पांचवें नंबर पर उतरे थे और उन्होंने 13 गेंदों में 28 रन बनाए थे। इस मैच में कॉलिन मुनरो चार और तीसरे नंबर के बल्लेबाज श्रेयस अय्यर 11 रन पर आउट हो गए थे जबकि विजय शंकर ने 13 रन बनाए। पंत को इन बल्लेबाजों से ऊपर लाने की जरूरत है ताकि वह पूरा समय लेकर टीम के लिए बड़ी पारी खेल सकें।

हैदराबाद के खिलाफ राजस्थान की बल्लेबाजी निराशाजनक थी : राजस्थान की टीम ने हैदराबाद के खिलाफ बल्लेबाजी में बेहद निराशाजनक प्रदर्शन किया था और टीम मात्र 125 रन ही बना सकी थी जो विपक्षी टीम को रोकने के लिए पर्याप्त नहीं था। राजस्थान के पास कप्तान रहाणे, संजू सैमसन, बेन स्टोक्स और जोस बटलर के रूप में कई अच्छे खिलाड़ी हैं।

राजस्थान के लिए दुर्भाग्यपूर्ण रहा था कि उसके आस्ट्रेलियाई बल्लेबाका डी आर्सी शॉर्ट मात्र चार रन बनाकर केन विलियम्सन के सीधे थ्रो पर रन आउट हो गए थे और फिर बेन स्टोक्स भी कुछ खास नहीं कर पाए थे। राजस्थान को अपनी जमीन पर यदि बेहतर प्रदर्शन करना है तो उसके विदेशी बल्लेबाजों को भारतीय पिचों और परिस्थितियों से तालमेल बैठाकर खेलना होगा।

टीमें – राजस्थान रॉयल्स : डार्सी शॉर्ट, अजिंक्य रहाणे (कप्तान), राहुल त्रिपाठी, संजू सैमसन, बेन स्टोक्स, जोस बटलर, स्टुअर्ट बिन्नी, श्रेयस गोपाल, धवल कुलकर्णी, जयदेव उनादकट, बेन लॉघलिन।

दिल्ली डेयरडेविल्स : गौतम गंभीर (कप्तान), कोलिन मुनरो, श्रेयस अय्यर, रिषभ पंत, ग्लेन मैक्सवेल, विजय शंकर, क्रिस मॉरिस, राहुल तेवेटिया, शाहबाज नदीम, ट्रेंट बोल्ट, मोहम्मद शमी।

Tags

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *