छग के लोकप्रिय कवि राजेश जैन राही ने अपने काव्य पाठ से ब्यावर में शमां बांधा

रायपुर।

ब्यावर राजस्थान में संपन्न हुए अखिल भारतीय नानक प्राज्ञ राष्ट्रीय युवा संघ के राष्ट्रीय अधिवेशन में लोकप्रिय कवि राजेश जैन राही ने अपने एकल काव्य पाठ से पूरे देश से पधारे जैन बंधुओं को भाव विभोर कर दिया। उपस्थित जन समुदाय ने हर्ष हर्ष -जय जय की ध्वनि से कवि राजेश जैन राही का भरपूर स्वागत एवं उत्साहवर्धन किया। कवि राही ने जैन धर्म एवं मां भारती को समर्पित करते हुए अपने अनेक छन्द सुनाए।

‘तप को नमन और त्याग को नमन मेरा,
भाईचारा आपसी मिलाप को नमन है।
जीव दया करुणा के भाव को नमन और,
महामंत्र नवकार जाप को नमन है।

पिता को समर्पित उनके दोहों को भरपूर तालियां मिली।

‘सागर सा मुझको लगे, पिता आपका प्यार,
ऊपर बेशक खार सा, अंदर रतन हजार।

संघ के अध्यक्ष अशोक श्रीमाल, महामंत्री दिनेश कुमार बोहरा कार्याध्यक्ष राजेंद्र नाबेडा,मनोज जैन मायावरम ने कवि राजेश जैन राही के काव्य पाठ की भूरि भूरि प्रशंसा की और उनके उज्जवल भविष्य की कामना की।

Back to top button