राजिम विधायक अमितेष शुक्ला की बात निकली झूठी, धड़ल्ले से बिक रहा राजिम मेले के दौरान शराब

- तामेश्वर साहू

गरियाबंद: राजिम की पवित्र धरा में प्रतिवर्ष होने वाले राजिम मेला इस बार 19 फरवरी से शुरू हो गया है जिसको देखने श्रद्धालु दूर दूर से आते है, राजिम अपने आप मे छत्तीसगढ़ में विशेष महत्व रखता है, जिस कारण राजिम को छत्तीसगढ़ का प्रयाग कहा जाता है, पर इस बार छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की सरकार आने के बाद राजिम मेला का स्वरूप भी बदला है और जिस तरह कांग्रेस ने प्रदेश में पूर्ण शराबबंदी की बात कि उसी के तहत इस बार राजिम मेले के दौरान राजिम विधायक अमितेष शुक्ला ने विभिन्न मंचो के माध्यम से राजिम और नवापारा में 15 दिनों तक पूर्ण शराब बंदी की बात कही.

जिसका सभी लोग इस फैसले का स्वागत कर रहे थे, पर राजिम पुन्नी मेला आज शुरू होने के बाद धड़ल्ले से शराब की बिक्री हो रही है, सुबह तो शराब दुकान के पास कोई नजर नही आया, न चखना दुकान वाले ना ही कोई अन्य पर जैसे ही शराब दुकान खुले होने की खबर मिली वैसे ही लोगो की भीड़ शराब लेने के लिए उमड़ पड़ी, वैसे ही राजिम शराब दुकान के पास जो चखना दुकान लगाने वाले लोग है वे लोग भी अपना अपना दुकान लगाना शुरू कर दिए.

चखना दुकान संचालकों से बात करने पर उन्होंने कहा की जिस तरह से राजिम विधायक अमितेष शुक्ला ने कहा था कि राजिम मेले के दौरान राजिम और नयापारा की शराब दुकान 15 दिनों तक बंद रहेगी, जिसके बाद से लग रहा था कि शराब दुकान नही खुलेगा जिसके बाद से वो दुकान लगाने का नहीं सोचे थे,पर जब 11 बजे शराब दुकान खुला सब को पता चला सभी अपना अपना दुकान लगाना शुरू किये, इस विषय पर शराब दुकान में बैठे शराब विक्रेता से बात किये उसका कहना था कि, शराब दुकान बंद करने का ऐसा कोई आदेश नही आया है, इस लिए शराब बेच रहे है।

Back to top button