राजनांदगांव : हनी मिशन (शहद) पायलेट प्रोजेक्ट के लिए ग्राम मनेरी के बिहान की महिलाओं को टूल किट वितरण

स्वसहायता समूह की महिलाओं को मधुमक्खी पालन के लिए दिया गया प्रशिक्षण, आर्थिक स्थिति बनेगी मजबूत

राजनांदगांव : खादी एवं ग्रामोद्योग आयोग द्वारा डोंगरगांव विकासखंड के ग्राम मनेरी में हनी मिशन पायलेट प्रोजेक्ट (शहद) के तहत मौन गृह, मौन वंश एवं टूलकिट वितरण समारोह का आयोजन किया गया। उल्लेखनीय है कि मनेरी ग्राम के समीप वन एवं वहां की जलवायु को मधुमक्खी पालन के लिए उपयुक्त पाया गया है और भारत शासन के हनी मिशन पाइलेट प्रोजेक्ट के लिए चयनित किया गया है। इस योजना के तहत मनेरी व आसपास के गांव से बिहान के 3 महिला स्व सहायता समूहों का चयन कर 5 दिवस का प्रशिक्षण दिया गयाए जिससे महिलाओं को रोजगार मिलेगा और उनकी आर्थिक स्थिति मजबूत बनेगी।

खादी एवं ग्रामद्योग विभाग के सेवानिवृत्त सहायक संचालक राकेश ठाकुर ने कहा कि मधुमक्खी कुटुम्ब में एक परिवार की तरह रहती है। मधुमक्खी पराग से शहद एकत्रित करती है और सभी मधुमक्खी का कार्य आपस में बंटा रहता है। इसी तरह स्वसहायता समूह की महिलाएं मिलकर शहद उत्पादन के लिए कार्य करें। खादी एवं ग्रामोद्योग आयोग के अधिकारी प्रेम कुमार साहू ने आयोग तथा शासन की योजनाओं की जानकारी दी।

खादी एवं ग्रामोद्योग आयोग के अधिकारी प्रकाश बघेल ने बताया कि खादी बोर्ड व आयोग द्वारा गांव में लघु उद्योंगो को बढ़ावा देने के लिए एक एप लांच किया है। जिसमे ऑनलाइन उत्पाद का विक्रय किया जा सकता है। प्रदीप शर्मा ने महिलाओं को इस प्रोजेक्ट से जोडऩे व इनके द्वारा उत्पादित सामग्रियों के मार्केटिंग की जानकारी दी। इस अवसर पर गणमान्य नागरिक एवं ग्रामवासी उपस्थित थे।

Tags
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button