राजनाथ सिंह: जम्मू-कश्मीर में बातचीत के लिए दिनेश्वर शर्मा होंगे केंद्र सरकार के प्रतिनिधि

केंद्र सरकार ने सोमवार को ऐलान किया कि वह जम्मू-कश्मीर में शांति प्रक्रिया के लिए बातचीत शुरू करने जा रही है। गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि पीएम मोदी कश्मीर को लेकर संजीदा हैं।
गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने प्रेस कांफ्रेंस में केंद्र के फैसले का ऐलान करते हुए कहा, ‘सरकार ने इंटेलिजेंस ब्यूरो के पूर्व डायरेक्टर दिनेश्वर शर्मा को सरकार के प्रतिनिधि के तौर पर नियुक्त करने का फैसला किया जो बातचीत की प्रक्रिया शुरू करेंगे।

राजनाथ ने कहा, ‘सरकार के प्रतिनिधि के तौर पर दिनेश्वर शर्मा जम्मू-कश्मीर के लोगों की उचित आकांक्षाओं को समझने के लिए बातचीत शुरू करेंगे।’ गृह मंत्री ने कहा कि दिनेश्वर शर्मा को बातचीत करने की पूरी आजादी होगी।उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री कश्मीर मसले को लेकर संजीदा हैं। राजनाथ ने कहा कि दिनेश्वर शर्मा को कैबिनेट सेक्रटरी का दर्जा मिलेगा।

उन्होंने बताया कि बातचीत की कोई सीमा नहीं है और शर्मा तय करेंगे कि किससे बात करनी है। राजनाथ ने कहा कि दिनेश्वर शर्मा सभी पक्षों से बातचीत के बाद अपनी रिपोर्ट केंद्र और जम्मू-कश्मीर सरकार को सौंपेंगे। अलगाववादियों से बातचीत पर सिंह ने कहा कि इसका फैसला दिनेश्वर शर्मा करेंगे।

गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा, ‘बातचीत की प्रक्रिया जल्द शुरू होगी और कश्मीर के युवाओं पर विशेष फोकस होगा। सरकार के प्रतिनिधि दिनेश्वर शर्मा को यह अधिकार होगा कि वह जिस भी पक्ष से बातचीत करना चाहे, कर सकते हैं।’ सिंह ने कहा कि सरकार सभी राजनीतिक पार्टियों और जम्मू-कश्मीर के सभी पक्षों से बातचीत करने जा रही है ताकि घाटी में शांति फिर से स्थापित हो।

इससे पहले भी गृहमंत्री कश्मीर में सभी पक्षों से बातचीत करने की बात कह चुके हैं। सितंबर में गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने जम्मू-कश्मीर यात्रा पर जाने से पहले कहा था कि वह खुले दिमाग से कश्मीर दौरे पर जाएंगे।

1
Back to top button