राज्यसभा में हंगामा, नेहरु-गांधी का अपमान हुआ- कांग्रेस

नई दिल्ली: राज्यसभा में हंगामा आज जमकर हंगामा हुआ है. कांग्रेस और बीजेपी में आरोप प्रत्यारोपों का सिलसिला जारी है. दरअसल मामला यह है कि राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने शपथग्रहण के तुरंत बाद देश को संबोधित करते हुए कहा था, “हमें तेजी से विकसित होने वाली एक मजबूत अर्थव्यवस्था, एक शिक्षित, नैतिक और साझा समुदाय, समान मूल्यों वाले और समान अवसर देने वाले समाज का निर्माण करना होगा…

एक ऐसा समाज, जिसकी कल्पना महात्मा गांधी और दीनदयाल उपाध्याय जी ने की थी… ये हमारे मानवीय मूल्यों के लिए भी महत्वपूर्ण है… ये हमारे सपनों का भारत होगा… एक ऐसा भारत, जो सभी को समान अवसर सुनिश्चित करेगा… ऐसा ही भारत, 21वीं सदी का भारत होगा…” कांग्रेस ने महात्मा गांधी की साथ दीनदयाल उपाध्याय का नाम लेने को लेकर आपत्ति जताई थी, जिसे लेकर आज भी राज्यसभा में हंगामा होता रहा.

इसके साथ ही रामनाथ कोविंद ने बतौर राष्ट्रपति पहला भाषण दिया था. इसमें उन्होंने राष्ट्र निर्माता की अपनी परिभाषा कई उदाहरणों के जरिए समझाई. कोविंद ने भाषण में आठ नेताओं का जिक्र किया. इनमें से छह नेता कांग्रेस से जुड़े थे, लेकिन जवाहरलाल नेहरू का जिक्र नहीं होने पर कांग्रेस ने एतराज जताया.

कांग्रेस का कहना है नेहरु और गांधी का आदर नहीं किया गया. इसी को लेकर राज्यसभा में हंगामा होता रहा .

Back to top button