आरएसएस की मुंबई बैठक में उठ सकता है राम मंदिर का मुद्दा

31 अक्टूबर से शुरू होगी तीन दिवसीय बैठक

मुंबई।

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की अखिल भारतीय कार्यकारिणी की तीन दिवसीय बैठक 31 अक्टूबर से मुंबई में प्रारंभ हो रही है। इस बैठक में अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण, देश की सुरक्षा, सीमा क्षेत्र का विकास, नई शिक्षा नीति एवं स्वदेशी वस्तुओं के निर्माण आदि मुद्दे पर चर्चा हो सकती है।

साल में एक बार होने वाली संघ की अखिल भारतीय कार्यकारिणी की बैठक विजयादशमी के बाद एवं दीपावली से पहले होती है। सूत्रों के अनुसार बैठक में अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के मुद्दे पर चर्चा हो सकती है। विजयादशमी उत्सव के दिन संघ प्रमुख मोहन भागवत ने अपने संबोधन में कहा भी था कि सरकार कानून बनाकर अयोध्या में राम मंदिर निर्माण का मार्ग तैयार करे।

विहिप के पदाधिकारी भी शामिल होंगे

सहयोगी संगठन विश्व हिदू परिषद ने भी पिछले दिनों देश के सभी राज्यों के राज्यपालों को ज्ञापन सौंपकर केंद्र सरकार से मांग की है कि अध्यादेश लाकर अयोध्या में राम मंदिर निर्माण का मार्ग प्रशस्त किया जाए। बैठक में विहिप के भी केंद्रीय पदाधिकारी उपस्थित रहेंगे। सूत्रों के अनुसार वे बैठक में देश की जनता की भावनाओं से संघ के पदाधिकारियों को अवगत कराएंगे।

इसके साथ ही बैठक में नई शिक्षा नीति जल्द से जल्द लागू करने एवं देश के सीमा क्षेत्रों के विकास पर जोर देने की भी चर्चा हो सकती है। देश की सुरक्षा जैसे महत्वपूर्ण विषयों पर खुलकर चर्चा होगी। बैठक के अंत में इससे संबंधित प्रस्ताव भी पास किए जा सकते हैं। सूत्रों के अनुसार बैठक में केंद्र सरकार के कामकाज की भी चर्चा होगी।

Back to top button