रांची: जहरीली शराब पीने से सात की मौत, कई लोगों की हालत गंभीर

रांची।

डोरंडा और इरगू टोली के बाद एक बार फिर राजधानी रांची में जहरीली शराब पीने से मौत का मामला सामने आया है। इस बार गोंदा थाना क्षेत्र के हातमा बस्ती में रविवार को जहरीली शराब पीने से सात लोगों की मौत हो गई है। जबकि कई गंभीर रूप से बीमार हैं। बीमारों का इलाज रिम्स समेत शहर के कई अस्पतालों में चल रहा है। मरने वालों में सभी मजदूरी का काम करने वाले थे।

इसमें दो नगर निगम के सफाई कर्मचारी थे। जिसमें से एक मुख्यमंत्री आवास में पदस्थापित था। सात लोगों की मौत से पूरे इलाके में सनसनी फैल गई है। इससे इलाके के कई परिवार दहशत में भी हैं। हातमा बस्ती में घटना की खबर मिलने के बाद पुलिस प्रशासन के होश उड़ गए।

नगर विकास मंत्री सीपी सिंह, विधायक जीतू चरण राम, एडीजी आरके मलिक, डीआईजी अमोल वेणुकान्त होमकर, डीसी राय महिपात रे, एसएसपी अनीश गुप्ता, सिटी एसपी अमन कुमार समेत गोंदा व लालपुर थानेदार टीम के साथ मौके पर पहुंचे। शव को अपने कब्जे में लिया। पंचनामा करने के बाद पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए रिम्स भेज दिया।

हातमा बस्ती में जहरीली शराब पीने से मौत का सिलसिला शनिवार की शाम से शुरू हुआ, जो रविवार तक रहा। सबसे पहले शनिवार की शाम सात बजे उल्टी होने के बाद पिंटू ठाकुर की मौत हुई। बस्ती के लोगों के मुताबिक लोगों ने शनिवार को देसी शराब का सेवन किया था। शराब पीने के बाद लोगों की तबीयत बिगड़ने लगी तथा रातभर में चार की मौत हो गई। इसके बाद रविवार को इलाज के दौरान अस्पताल में तीन मौतें हुईं।

सिटी एसपी के नेतृत्व में जांच टीम का गठन

जहरीली शराब से हुई मौत के बाद एसएसपी ने पूरे मामले की जांच और अवैध शराब की बिक्री करने वालों की धर-पकड़ के लिए एक जांच टीम का गठन किया है। सिटी एसपी अमन कुमार के नेतृत्व में टीम में सदर डीएसपी विकास पांडेय, गोंदा थानेदार, लालपुर इंस्पेक्टर रमोद कुमार सिंह को शामिल किया गया है। एसएसपी ने टीम को जांच कर तीन दिन के भीतर रिपोर्ट देने का निर्देश दिया है।

पूरी बस्ती में चला छापेमारी अभियान

एसएसपी के निर्देश पर रांची पुलिस ने रविवार को हातमा बस्ती में अवैध शराब की बिक्री करने वालों के खिलाफ अभियान चलाया। इस दौरान पुलिस ने इलाके के हर घर की जांच की। कई घरों में पुलिस ने अवैध शराब भी बरामद किया।

इन लोगों की मौत हुई

पिंटू ठाकुर – 30 साल
अशोक राम – 55 साल
विजय मिर्धा – 40 साल ( सीएम आवास का सफाई कर्मी)
बिल्लू मिर्धा – 50 साल
पारस ठाकुर – 70 साल
फुलमनी देवी-55 साल
प्रयाग नगारची- 52 साल

Back to top button