राष्ट्रीय

देश के 46वें चीफ जस्टिस बने रंजन गोगोई, राष्ट्रपति भवन में ली शपथ

आज नए मुख्य् न्यायाधीश का पदभार संभाला

नई दिल्ली :

सुप्रीम कोर्ट के सबसे वरिष्ठ‍ जज जस्टिस रंजन गोगोई ने आज नए मुख्य् न्यायाधीश का पदभार संभाला। आज जस्टिस रंजन गोगोई देश के 46वें मुख्य न्यायाधीश पद की शपथ ली।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने राष्ट्रपति भवन के ऐतिहासिक दरबार हॉल में कई गणमान्य लोगों की उपस्थिति में उन्हें सीजेआई पद की शपथ दिलाई। वह न्यायमूर्ति दीपक मिश्रा का स्थान लेंगे।

जस्टिस गोगोई का मुख्य न्यायाधीश के तौर पर करीब 14 महीने का कार्यकाल है। वह 17 नवंबर 2019 तक इस पद पर रहेंगे। सुप्रीम कोर्ट मे न्यायाधीशों के कुल 31 मंजूर पद हैं जिसमे से अभी 25 न्यायाधीश काम कर रहे हैं। जस्टिस दीपक मिश्रा के सेवानिवृत होने के बाद यह संख्या घट कर 24 रह जाएगी।

बता दें कि देश के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ था जब सुप्रीम कोर्ट के चार वरिष्ठ जजों ने प्रेस कांफ्रेंस की थी और चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा (अब सेवानिवृत्त) के कार्यों पर सवाल उठाते हुए देश की जनता के सामने अपनी बात रखी थी। इन जजों में जस्टिस गोगोई भी शामिल थे। जजों ने कहा था कि सुप्रीम कोर्ट में सब कुछ ठीक नहीं चल रहा है।

Summary
Review Date
Reviewed Item
देश के 46वें चीफ जस्टिस बने रंजन गोगोई, राष्ट्रपति भवन में ली शपथ
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags