रणजी ट्राफी: 40 वर्षीय वसीम जाफर ने रणजी ट्राफी में मचाया धूम, लगाया दोहरा शतक

प्रथम श्रेणी क्रिकेट में ये वसीम जाफर का नौवीं दो सौ रन(200+) से ज्यादा की पारी है।

शानदार फार्म में चल रहे 40 वर्षीय अनुभवी भारतीय बल्लेबाज वसीम जाफर का रणजी ट्रॉफी के मौजूदा सीजन में मैराथन पारी जारी है।

उम्र के इस पड़ाव पर भी उनका बल्ला लगातार रन उगल रहा है और हर दिन नए रिकॉर्ड कायम कर रहा है।

उत्तराखंड के खिलाफ नागपुर में उत्तराखंड के खिलाफ डिफेंडिंग चैंपियन विदर्भ के खेले जा रहे रणजी ट्रॉफी के क्वार्टर फाइनल के तीसरे दिन 281 गेंदों में दोहरा शतक जड़ने का कारनामा कर दिखाया।

प्रथम श्रेणी क्रिकेट में ये वसीम जाफर का नौवीं दो सौ रन(200+) से ज्यादा की पारी है। जिसमें दो तिहरे शतक भी शामिल हैं। ये दोनों तिहरे शतक उन्होंने मुंबई के लिए जड़े हैं।

-बने ये कारनामा करने वाले पहले एशियाई बल्लेबाज

वसीम जाफर ने विदर्भ के लिए खेलते हुए दूसरा दोहरा शतक जड़ा है। उन्होंने इससे पहले पिछले साल शेष भारत के खिलाफ विदर्भ की ओर से 286 रन की पारी खेली थी।

उत्तराखंड के खिलाफ दोहरा शतक पूरा करते ही वो 40 साल ज्यादा की उम्र में प्रथम श्रेणी क्रिकेट में दो दोहरे शतक जड़ने वाले पहले एशियाई खिलाड़ी बन गए हैं।

बुधवार को जाफर और संजय रामास्वामी के नाबाद शतकों की मदद से विदर्भ ने मैच के दूसरे दिन उत्तराखंड के 355 रन के जवाब में एक विकेट पर 260 रन बना लिए थे।

जाफर 153 गेंदों में 13 चौकों की मदद से 111 रन और रामास्वामी 212 गेंद पर 112 रन बनाकर पवेलियन वापस लौटे थे।

-281 गेंदों पर पूरा किया नौवां दोहरा शतक

मैच के तीसरे दिन जाफर ने रन बनाने का सिलसिला जारी रखा। रामास्वामी के 141 रन बनाकर आउट होते ही दोनों के बीच दूसरे विकेट के लिए 304 रन की साझेदारी का अंत हुआ।

इसके बाद बल्लेबाजी करने आए गणेश सतीश खाता खोले बगैर पवेलियन लौट गए। लेकिन दूसरी तरफ जाफर बल्ला थामे रहे।

लंच तक उन्होंने 182 रन बना लिए थे और मोहित काले 5 रन बनाकर उनका साथ दे रहे थे। लंच के बाद खेल शूरू होने के कुछ देने के बाद जाफर ने 281 गेंदों पर दोहरा शतक पूरा किया। इस दौरान उन्होंने 25 चौके जड़े।

-पहुंचे मौजूदा सीजन में 1 हजारी बनने के करीब

रणजी ट्रॉफी 2018-19 में वसीम जाफर ने अबतक शानदार बल्लेबाजी की है। जैसे जैसे सीजन आगे बढ़ा उनकी रनों की भूख भी बढ़ती गई।

इस सीजन वो अबतक 27, 63, 41, 34, 153, 0, 30, 13, 126, 178, 98, 200* रन की पारी खेल चुके हैं। पिछली चार पारियों में वो तीन शतक लगा चुके हैं।

जिस पारी में वो शतक नहीं बना सके उसमें वो 2 रन से शतक से चूक गए थे। अब तक खेले 9 मैच की 12 पारियों में 80.25 की औसत से 963* रन बना चुके हैं।

इस दौरान उन्होंने 4 शतक और 1 अर्धशतक जड़ा है। जाफर मौजूदा रणजी सीजन में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ियों की सूची में तीसरे पायदान पर पहुंच गए हैं।

वसीम जाफर के प्रथम श्रेणी करियर का ये 57वां शतक है। जिसमें से 5 शतक उन्होंने टीम इंडिया के लिए खेलते हुए बनाए।

इसके अलावा मुंबई के लिए 36, वेस्ट जोन के लिए 7, विदर्भ के लिए 6 और शेष भारत के लिए 1 शतक जड़ा है। उन्होंने टीन एजर के रुप में 3 शतक जड़े थे इसमें उनका उच्चतम स्कोर 311 रन था।

वहीं उम्र के 40वें पड़ाव को पार करने के बाद वो 5 शतक जड़ चुके हैं जिसमें 286 रन उनका सर्वश्रेष्ठ स्कोर है।

– रिकॉर्ड्स के शिखर पर जाफर

वसीम जाफर के नाम इतने रिकॉर्ड्स दर्ज हो चुके हैं जिन्हें तोड़ने के लिए बल्लेबाजों को सालों मशक्कत करनी पड़ेगी। बुधवार को लगाया गया शतक रणजी ट्रॉफी में इस खिलाड़ी का 40वां शतक था, ये हैं उनके कुछ खास रिकॉर्ड्स..

सबसे ज्यादा 147 मैच

सबसे ज्यादा 11500+ रन

सबसे ज्यादा 40 शतक

सबसे ज्यादा पचास से ऊपर के स्कोर- 85 बार

सबसे ज्यादा 191 कैच

प्रथम श्रेणी क्रिकेट मैच- 250

प्रथम श्रेणी क्रिकेट रन- 18,881+

प्रथम श्रेणी क्रिकेट औसत- 50.88

प्रथम श्रेणी क्रिकेट शतक- 57

प्रथम श्रेणी क्रिकेट अर्धशतक- 87

1
Back to top button